समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

President Elections: Yashwant Sinha बने विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार, 27 जून को करेंगे नॉमिनेशन

image source : social media

President Elections: यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) को राष्ट्रपति चुनाव के लिए सर्वसम्मति से विपक्षी दलों का उम्मीदवार चुन लिया गया है. देश के नए राष्ट्रपति का चुनाव 18 जुलाई को होना है और विपक्ष की ओर से पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) को राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया गया है. विपक्ष के 19 दलों की बैठक के बाद सिन्हा के नाम पर मुहर लगाई गई है. श्री सिन्हा 27 जून की सुबह 11.30 बजे नॉमिनेशन दाखिल करेंगे.

टीएमसी ने यशवंत सिन्हा का नाम आगे बढ़ाया

मंगलवार को विपक्ष की बैठक में टीएमसी ने यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) का नाम आगे बढ़ाया, जिसे विपक्ष के 19 दलों का समर्थन मिला. बैठक से पहले सिन्हा ने ट्वीट किया कि TMC में उन्होंने मुझे जो सम्मान और प्रतिष्ठा दी, उसके लिए मैं ममता बनर्जी का आभारी हूं.उन्होंने आगे कहा कि अब एक समय आ गया है, जब एक बड़े राष्ट्रीय उद्देश्य के लिए मुझे पार्टी से हटकर विपक्षी एकता के लिए काम करना चाहिए. मुझे यकीन है कि पार्टी मेरे इस कदम को स्वीकार करेगी.

 

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने कहा कि हम सभी विपक्षी दलों ने मिलकर फैसला किया है कि राष्ट्रपति चुनाव में यशवंत सिन्हा हमारे उम्मीदवार होंगे.  रमेश ने कहा कि यशवंत सिन्हा एक योग्य प्रत्याशी हैं. वह भारत की धर्मनिरपेक्षता और लोकतांत्रिक तानेबाने को मानते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि हमें दुख है कि मोदी सरकार राष्ट्रपति उम्मीदवार पर एक राय बनाने के लिए गंभीर चर्चा नहीं कर सकी. बता दें कि उनके राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार बनने की चर्चा तभी से शुरू हो गई थी जब उन्होंने ममता बनर्जी को धन्यवाद देते हुए पार्टी छोड़ने का फैसला कर लिया.

ये भी पढ़ें : Presidential Election: ममता बनर्जी ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए Yashwant Sinha का नाम किया आगे ! जानिए विपक्ष की राय

 

Related posts

एशिया कप के लिए घोषित Indian Men’s HockeyTeam में झारखंड के Pankaj Kumar Rajak का सेलेक्शन, बधाइयों का लगा तांता

Manoj Singh

झारखंड पंचायत चुनाव में मतदान बैलेट पेपर से होगा, इस तारीख को होगी चुनाव की घोषणा

Manoj Singh

NITI Aayog की ऊर्जा एवं जलवायु सूचकांक रैंकिंग में गुजरात सबसे आगे, मध्य प्रदेश और झारखंड पिछड़े

Manoj Singh