समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार साहिबगंज

World longest River Cruise: 23 जनवरी को साहिबगंज पहुंचेगा दुनिया का सबसे लंबा रिवर क्रूज, पीएम मोदी बनारस में दिखाएंगे हरी झंडी

image source : social media

World longest River Cruise:  कोलकाता से निकला गंगा विलास लग्जरी क्रूज (World longest River Cruise) वाराणसी पहुंच गया है. 23 जनवरी को दुनिया का सबसे लंबा रिवर क्रूज साहिबगंज पहुंचेगा (World longest river cruise) (Sahibganj). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 13 जनवरी को इसका शुभारंभ करेंगे. जिसके बाद बनारस से चल कर यह क्रूज 23 जनवरी की शाम यहां पहुंचेगा. यहां पर क्रूज रात में रुकेगा और फिर सुबह अपने गंतव्य के लिए रवाना हो जाएगा. इस लंबे सफर में एमवी गंगा विलास क्रूज पटना, साहिबगंज (Sahibganj), कोलकाता, ढाका और गुवाहाटी जैसे 50 पर्यटक स्थलों से होकर गुजरेगा.

image source : social media
image source : social media

27 नदी तंत्र से गुजरेगा क्रूज

यह क्रूज यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल, बांग्लादेश और असम के कुल 27 रिवर सिस्टम से गुजरेगा। मुख्य तीन नदियां गंगा, मेघना और ब्रह्मपुत्र नदियां पड़ेंगी. क्रूज बंगाल में गंगा की सहायक और दूसरे नामों से प्रचलित भागीरथी, हुगली, बिद्यावती, मालटा, सुंदरवन रिवर सिस्टम, बांग्लादेश में मेघना, पद्मा, जमुना और फिर भारत में ब्रह्मपुत्र से असम में प्रवेश करेगा। भारत-बांग्लादेश प्रोटोकॉल की वजह से यह यात्रा बांग्लादेश को क्रॉस करेगी। क्रूज यात्री 15 दिनों तक बांग्लादेश में क्रूज का आनंद लेंगे।

प्रशासन सुरक्षा व्यवस्था की तैयारी में जुटा

साहिबगंज में क्रूज के पहुंचने और उसकी सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन की ओर से सुरक्षा बंदोबस्त सहित अन्य तैयारी की गई हैं. इसे लेकर को लेकर मंगलवार की शाम को पदाधिकारियों के साथ उपायुक्त ने समदा बंदरगाह के पास सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया. डीसी के मुताबिक 23 जनवरी रात में साहिबगंज में रुकने के बाद क्रूज पर उपस्थित मेहमानों के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम और स्थानीय सांस्कृतिक गतिविधियों के कार्यक्रम भारत सरकार से अनुमति मिलने के बाद किए जाएंगे.

image source : social media
image source : social media

पर्यटक करेंगे ऐसा अनुभव

यह लग्जरी क्रूज भारत और बांग्लादेश के पांच राज्यों में नदियों की कार्गो ट्रैफिक को बढ़ाने के प्रयासों के साथ-साथ यात्री पर्यटन को बढ़ावा देने का काम करेगा.एमवी गंगा विलास क्रूज के जरिये पर्यटक भारत के आध्यात्मिक, शैक्षिक, कल्याण, सांस्कृतिक और साथ ही भारत की जैव विविधता की समृद्धि का अनुभव करने में सक्षम होंगे. काशी से सारनाथ तक, माजुली से मयोंग तक, सुंदरबन से काजीरंगा तक, यह क्रूज पर्यटकों को नया अनुभव प्रदान करेगा. क्रूज के जरिए विश्व धरोहर स्थलों, नेशनल पार्क, नदी घाटों और बिहार में पटना, झारखंड में साहिबगंज, पश्चिम बंगाल में कोलकाता, बांग्लादेश में ढाका और असम में गुवाहाटी जैसे प्रमुख शहरों सहित 50 पर्यटन स्थलों की यात्रा के साथ 51 दिनों की क्रूज यात्रा की योजना क्रूज के यात्रा में शामिल है.

image source : social media
image source : social media

क्रूज पर 18 सुइट्स, स्पा रूम और 3 सनडेक

गंगा विलास क्रूज की लंबाई साढ़े 62 मीटर और चौड़ाई 12.8 मीटर है। इसमें पर्यटकों के रहने के लिए कुल 18 सुइट्स हैं। साथ में एक 40 सीटर रेस्टोरेंट, स्पा रूम और 3 सनडेक हैं। साथ में म्यूजिक की भी व्यवस्था है।

ये भी पढ़ें : सीएम Hemant Soren ने किया ‘हमीन कर बजट’ पोर्टल व मोबाइल ऐप का उद्घाटन, लोग अब बजट पर दे सकेंगे सुझाव

 

Related posts

56वीं राष्ट्रीय क्रॉस कंट्री बालिका अंडर 20 चैंपियनशिप में झारखंड की आशा किरण बारला ने जीता स्वर्ण पदक

Sumeet Roy

JSSC PGT Recruitment 2022 : झारखंड में प्लस टू शिक्षकों के 3120 पदों पर निकली भर्ती, जानें पद व चयन समेत खास बातें

Manoj Singh

RRR Release Date: ‘आरआरआर’ की रिलीज डेट आई सामने, कोरोना की वजह से टाली गई थी फिल्म

Manoj Singh