समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

कौन हैं ‘मां अन्नपूर्णा’, जिनकी कनाडा से लायी गयी मूर्ति की काशी विश्वनाथ में आज प्राणप्रतिष्ठा की गयी

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूरे विधि-विधान के साथ काशी विश्वनाथ मंदिर में मां अन्नपूर्णा की मूर्ति की प्राण-प्रतिष्ठा की। यह मूर्ति भारत से 100 साल पहले चोरी कर कनाडा ले जाये गयी थी। क्या आपको पता है, ‘मां अन्नपूर्णा’ कौन हैं? भारतीय धर्म में मां अन्नपूर्णा का विशेष महत्व है। मां अन्नपूर्णा वह देवी है जिनके आशीर्वाद से पूर्व विश्व में कोई भी इनसान कभी भी भूखा नहीं रहता है। मां अन्नपूर्णा की मूर्ति काशी में ही क्यों स्थापित की गयी, इसका भी विशेष कारण है। मां अन्नपूर्णा का सम्बंध भगवान शिव की नगरी काशी से है। आइये, जानते हैं मां अन्नपूर्णा के बारे में कुछ जरूरी बातें-

  • ‘मां अन्नपूर्णा’ मां दुर्गा का ही एक रूप हैं, वह अपने भक्तों से बहुत प्रेम करती हैं।
  • ‘मां अन्नपूर्णा’ का रूप काफी मोहक और सौम्य है।
  • ‘मां अन्नपूर्णा’ अन्न की देवी हैं, इन्हीं के आशीष से पूरे विश्व में भोजन का संचालन होता है।
  • ‘मां अन्नपूर्णा’ ही ‘मां शाकम्भरी’ हैं।

‘मां अन्नपूर्णा’ का मां पार्वती के रूप में भगवान शिव से विवाह हुआ था। विवाह के बाद शिव ने कैलास पर्वत पर रहने का फैसला किया था, मगर माता कैलास में नहीं रहना चाहती थी। चूंकि माता पार्वती हिमालय की पुत्री हैं। इसलिए कैलाश माता का मायका हो जाता है। मां पार्वती को अपने मायके में रहना पसंद नहीं था। इसलिए उन्होंने काशी, जो कि भोलेनाथ की नगरी कही जाती है, वहां रहने की इच्छा जाहिर की, जिसके बाद शिव उन्हें यहां लेकर आ गये। इसलिए काशी ही मां अन्नपूर्णा की नगरी कही जाती है। माता के काशी में विराजने के कारण कहा जाता है भोलेनाथ की नगरी में कोई भी भूखा नहीं रहता है।

काशी में ही ‘मां अन्नपूर्णा’ का सुंदर मंदिर हैं, जो कि अन्नकूट के दिन खुलता है और यहां उस दिन 56 तरह के भोग लगते हैं। स्कन्दपुराण के ‘काशीखण्ड’ में ‘मां अन्नपूर्णा’ के बारे में विस्तृत जानकारी मिलती है।

यह भी पढ़ें: झारखंड राज्य स्थापना दिवस अलंकरण परेड समारोह में सीएम हेमंत ने दिये वीरता मेडल

Related posts

Coal Crisis in India: क्यों आया भारत में कोयले का इतना बड़ा संकट? क्या Blackout का है डर?

Sumeet Roy

Jharkhand Internet Ban: झारखंड के 4 ज़िलों में Internet सेवा ठप, जानें क्यों मचा है बवाल

Sumeet Roy