समाचार प्लस
Breaking खेल देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

WFI विवाद: अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह  ‘थप्पड़ ही नहीं मारते’, ‘जानलेवा हमले’ भी करते हैं!

WFI Controversy: President Brij Bhushan 'Not Only Slaps', Also Makes 'Deadly Attacks'!

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

खेल मंत्रालय के हस्तक्षेप के बाद कुश्ती महासंघ में चल रहा दंगल फिलहाल तो शांत हो गया है, लेकिन अभी भूचाल आना बाकी है। डब्ल्यूएफआई के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर यौन शोषण के जो गंभीर आरोप लगे हैं, वे इतनी जल्दी और आसानी से शांत नहीं होंगे। वह भी वैसे में तब जबकि बृजभूषण इन आरोपों को सिरे से न सिर्फ नकार रहे हैं, बल्कि आरोप सही पाये जाने पर फांस पर चढ़ा देने की बात भी कर रहे हैं। दूसरी ओर पहलवान न सिर्फ इन आरोपों को सही मान रहे हैं, बल्कि उन्हें प्रधानमंत्री को देने की बात भी कह रहे हैं। सही तो कोई एक होगा, लेकिन भाजपा सांसद बृजभूषण पर पहले भी जिस तरह गंभीर आरोप लगे हैं, उससे उनकी बेगुनाही पर शक पैदा रहा है!

जब से यह प्रकरण चर्चा में है, राष्ट्रीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के कारनामों की परतें भी एक के बाद एक खुलती जा रही हैं।

विवाद की जांच करेंगी समितियां

केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर के आश्वासन के बाद अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर पर चल रहा पहलवानों का धरना प्रदर्शन खत्म कर दिया है। लेकिन मंत्रालय ने समिति गठित कर इस विवाद की जांच कराने की बात कही है। दूसरी ओर इंडियन ओलंपिक एसोसिएशन ने भी एक 7 सदस्यीय जांच समिति का गठन किया है। खेल मंत्रालय तीन सदस्यीय जांच समिति गठित करेगी। यह समिति 4 सप्ताह में बृजभूषण शरण सिंह और डब्ल्यूएफआई के अन्य पदाधिकारियों पर लगे सभी आरोपों की जांच करेगी और अपना रिपोर्ट खेल मंत्रालय को सौंपेगी। वहीं कुश्ती महासंघ और पहलवानों के बीच विवाद में भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने भी बड़ा फैसला लिया है। आईओए ने डब्ल्यूएफआई प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न (यौन उत्पीड़न) के आरोपों की जांच के लिए सात सदस्यीय कमेटी गठित  की है। इस कमेटी के सदस्यों में मैरी कॉम, डोला बनर्जी, अलकनंदा अशोक, योगेश्वर दत्त, सहदेव यादव और 2 अधिवक्ताओं के नाम शामिल हैं।

बृजभूषण शरण सिंह और विवादों से नाता
  • बृजभूषण ने पिछले साल ही राज ठाकरे को अयोध्या में न घुसने देने की धमकी दी थी। उन्होंने उस समय भाजपा की पार्टी लाइन से अलग होकर राज ठाकरे को न आने की चेतावनी दी थी। बाबा रामदेव को लेकर भी वो कई बार मोर्चा खोल चुके हैं।
  • बृजभूषण शरण सिंह का नाम अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम से भी जुड़ा है। दाऊद के जीजा इब्राहिम कसकर की हत्या करने वालों को शरण देना का आरोप भी उन पर लगा है। यह हत्या अरुण गवली गैंग के शूटर शैलेश हाल्दनकर और विपिन ने की थी। इन दोनों को शरण देने का आरोप बृजभूषण पर लगा था।
  • बृजभूषण शरण सिंह पर एक नेता पर जानलेवा हमला करने का भी आरोप लगा था। 1993 में समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री विनोद सिंह उर्फ पंडित सिंह पर जानलेवा हमला करने भी आरोप लगा है।
  • दिसंबर 2021 की बात है। झारखंड के रांची स्थित खेलगांव में अंडर-15 नेशनल कुश्‍ती चैंपियनशिप का आयोजन हो रहा था। मुख्य अतिथि बृजभूषण मंच पर बैठे हुए थे। चैंपियनशिप में आये यूपी के भी एक पहलवान की उम्र वेरिफिकेशन में ज्‍यादा पाई गई। वह मंच पर बैठे बृजभूषण सिंह के पास इस उम्‍मीद में चला गया कि शायद यूपी का होने के नाते अध्‍यक्ष उसकी कुछ मदद करेंगे। लेकिन बृजभूषण सिंह ने पहले तो पहलवान को धक्‍का दिया, फिर उसके गाल पर थप्‍पड़ जड़ दिया। इस घटना की बाद में काफी आलोचना भी हुई थी।

यह भी पढ़ें: दुनिया का सबसे लंबा रिवर Cruise Ganga Vilas पहुंचा साहिबगंज, झारखंड के पर्यटन को भी करेगा बूम

Related posts

शर्मनाक : उपराजधानी में रक्षक बना भक्षक, तो कोयला नगरी में युवकों ने लूट ली आदिवासी महिला की अस्मत

Manoj Singh

झारखंड विधानसभा स्थापना दिवस पर तीन दिवसीय समारोह आज से, 3 दिनों तक होंगे कार्यक्रम

Manoj Singh

आतंक फैलाने भारत आया एक और ‘बाबर’, कुबूलनामे में खोली पाकिस्तान की पोल

Pramod Kumar