समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

झारखंड पंचायत चुनाव में मतदान बैलेट पेपर से होगा, इस तारीख को होगी चुनाव की घोषणा

Jharkhand Panchayat Chunav

Jharkhand Panchayat Chunav 2022:  झारखंड में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में होगा । राज्य निर्वाचन आयोग इसी के अनुसार तैयारी कर रहा है। पंचायत चुनाव ईवीएम की बजाय बैलेट पेपर से होगा।चारों चरण का मतदान मई माह में ही पूरा होगा तथा जून माह में परिणाम जारी होगा। किसी भी जिला में अधिकतम चार चरणों में चुनाव होगा। यह मतदाताओं की संख्या, मतदान केंद्रों की संवेदनशीलता तथा उपलब्ध सुरक्षा बलों के आधार पर तय किया गया है।

अधिसूचना जारी

इधर, पंचायती राज विभाग ने बिना ओबीसी आरक्षण को लेकर पंचायत चुनाव कराने से संबंधित अधिसूचना शुक्रवार को जारी कर दी। इसके तहत सभी जिलाें के गजट में अधिसूचित अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) को यथा स्वरूप रखा जाएगा। महिला या अन्य जिसके लिए जो अधिसूचित पद हो उसे खुली श्रेणी की सीट मानते हुए ही चुनाव कराया जाएगा। सभी जिला दंडाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि पंचायती राज विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के आलोक में विभिन्न श्रेणियों की आरक्षित/अनारक्षित निर्वाचन क्षेत्रों से संबंधित जिला गजट में आवश्यक संशोधन कर लिया जाए।

उत्तर प्रदेश से मंगाए गए 50 हजार बैलेट बाक्स 

इस संशोधन पर राज्य निर्वाचन आयोग के अनुमोदन की आवश्यकता नहीं होगी। पंचायत चुनाव ईवीएम की बजाय बैलेट पेपर से होगा। इसे लेकर 50 हजार बैलेट बाक्स उत्तर प्रदेश से मंगाए गए हैं। यहां लगभग 52 हजार बैलेट बाक्स पहले से उपलब्ध हैं। आयाेग द्वारा पंचायत चुनाव में कोरोना से बचाव को लेकर एसओपी भी पूर्व में जारी कर दिया गया है। आयोग ने पंचायत चुनाव के लिए कुल 53,480 मतदान केंद्र चिह्नित किए हैं।

अगले सप्ताह हो सकती है झारखंड पंचायत चुनाव 2022 की घोषणा

पंचायती राज विभाग द्वारा एक-दो दिनों में पंचायत चुनाव को लेकर फाइल मुख्य सचिव के माध्यम से राज्यपाल की स्वीकृति के लिए राजभवन भेजी जाएगी। पंचायत चुनाव पर राज्यपाल की स्वीकृति मिलते ही इसकी घोषणा कर दी जाएगी। बताया जाता है कि 10 अप्रैल से पहले पंचायत चुनाव की घोषणा हो जाएगी।राज्य निर्वाचन आयोग ने स्वतंत्र चुनाव चिह्नों को लेकर भी आदेश जारी कर दिया है। प्रत्येक पदों के लिए 24-24 चुनाव चिह्न तय किए गए हैं, जबकि इतने ही चुनाव चिह्न सुरक्षित रखे गए हैं।

ये भी पढ़ें : अविश्वास प्रस्ताव खारिज होने के बाद Imran की सिफारिश पर संसद भंग, 90 दिन में होंगे मध्यावधि चुनाव

 

Related posts

Anupam Shyam Passes Away: प्रतिज्ञा के ‘ठाकुर सज्जन सिंह’ अनुपम श्याम का निधन, लंबे समय से थे बीमार

Sumeet Roy

पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू की फिर दिखी सियासी नौटंकी, अब दिया अध्यक्ष पद से इस्तीफ़ा, कैप्टन बोले – पहले ही कहा था ‘अस्थिर आदमी’

Manoj Singh

अमृतसर में पाकिस्तान जैसी घटना, स्वर्ण मंदिर में दरबार साहब की ‘बेअदबी’ पर ‘सजा-ए-मौत’, ‘हत्याकांड’ की ‘सिर्फ निंदा’

Pramod Kumar