समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

असत्य पर सत्य की विजय का महापर्व विजयादशमी, जानिए क्या हैं आराधना के शुभ मुहूर्त

Vijayadashami, the great festival of victory of truth over falsehood, what are the auspicious times of worship

न्यूज डेस्क/ समाचार-प्लस – झारखंड-बिहार

मां दुर्गा का दस दिनों का महापर्व बुधवार को विजयादशमी के साथ पूर्ण हो जायेगा। नवरात्रि के नौ दिनों का अनुष्ठान का समापन मंगलवार को हो चुका है, अब कल विजयादशमी की देशभर में धूम रहेगी। हिंदू पंचांग के अनुसार दशहरा हर साल अश्विन मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। विजयादशमी को बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक माना जाता है। पौराणिक कथाओं के अनुसार, इसी दिन श्रीराम ने लंकापति रावण का वध किया था। उसी अवसर को याद कर हर वर्ष विजयादशमी मनायी जाती है।  अन्य पौराणिक कथा के अनुसार माता दुर्गा ने इसी दिन महिषासुर का संहार भी किया था। दोनों कथाएं भले अलग हों, लेकिन दोनों का आशय एक ही है- ‘असत्य पर सत्य की विजय।’

दशहरा के शुभ-मुहूर्त
  • विजय मुहूर्त- 5 अक्टूबर: अपराह्न 2 बजकर 7 मिनट से 2 बजकर 54 मिनट तक
  • दशमी तिथि- 4 अक्टूबर के अपराह्न 2 बजकर 20 मिनट से 5 अक्टूबर की रात 12 बजे तक
  • श्रवण नक्षत्र- 4 अक्टूबर को रात 10 बजकर 51 मिनट से प्रारंभ और 5 अक्टूबर की रात 9 बजकर 15 मिनट तक
बंगाली विजयादशमी

अपरान्ह पूजा- 1 बजकर 20 मिनट से 3 बजकर 41 मिनट तक

यह भी पढ़ें: हो गयी नोबेल पुरस्कारों की शुरुआत, मेडिकल का नोबेल मिला स्वांते पाबो को

Related posts

ग्रामीण बैंक PO परीक्षा 1 अगस्‍त से, यहां Download करें Admit Card 

Manoj Singh

J&K Assembly Election: परिसीमन आयोग ने जारी की फाइनल रिपोर्ट, राज्य में होंगी इतनी सीटें; नवंबर-दिसंबर में हो सकते हैं विधानसभा चुनाव

Manoj Singh

Price Explosion: दिवाली से पहले फूटा महंगाई का बम, Petrol-Diesel, LPG सिलेंडर के दामों में वृद्धि 

Manoj Singh