समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

किशोरों, बच्चों के टीकाकरण है जरूरी, तभी सफल होगा कोरोना के खिलाफ अभियान – झारखंड नव निर्माण मंच

Jharkhand Nav Nirman Manch
न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

कोरोना के खिलाफ अभियान सफल बनाना है तो किशोरों और छोटे बच्चों का टीकाकरण करना जरूरी है। इसके लिए सभी सरकारी और निजी स्कूलों एवं कोचिंग संस्थान के शिक्षक एवं प्रबंधन को सहयोग करना चाहिए। यही नहीं, सरकार महाविद्यालयों, विद्यालयों, कोचिंग संस्थानों के संबंध में अलग से एसओपी जारी करे। ये बातें झारखंड नव निर्माण मंच के अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने प्रेस बयान जारी कर कही ।

शिक्षण संस्थान नहीं खोलने का अनुरोध

झारखंड नव निर्माण मंच ने राज्य के मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री को पत्र लिखकर यह मांग की कि कोरोना के लगातार बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए किसी भी सूरत में विद्यालयों एवं कोचिंग संस्थानों को खोलने के आदेश नहीं दिए जाएं। नौनिहालों एवं किशोरों के जीवन को किसी भी सूरत में खतरे में नहीं डाला जा सकता। विद्यालय अथवा कोचिंग संस्थानों के पास विद्यार्थियों की विवरणी का पूरा आंकड़ा उपलब्ध है जिसके जरिये यह सुलभ तरीके से पता लगाया जा सकता है कि सम्बद्ध विद्यार्थियों ने वैक्सीन लेने के लिए पंजीकरण करवाया है अथवा नहीं। अगर पंजीकरण नहीं हो पाया है तो सम्बद्ध विद्यार्थियों एवं उनके अभिभावकों को इसके लिए युद्धस्तर पर उत्प्रेरित करने का अभियान चलाया जाए।

कम उपस्थिति में शिक्षण संस्थान चलाना घातक

संक्रमण 4 गुणा तेजी से बढ़ रहा है आंकड़े भयावह खतरे की ओर इशारा कर रहे हैं ऐसे में विद्यालयों एवं कोचिंग संस्थानों को खोलने का निर्णय और कम उपस्थिति से चलाने का निर्णय राज्य के लिए घातक निर्णय साबित होंगे। इसलिए झारखंड नव निर्माण मंच सरकार से महाविद्यालयों/विद्यालयों/कोचिंग संस्थानों के संबंध में अलग से एसओपी जारी कर विद्यार्थियों के टीकाकरण के पंजीकरण के जानकारी सार्वजनिक करने का निर्देश दे। जब विद्यालयों एवं कोचिंग संस्थानों के द्वारा समय-समय पर फीस को लेकर दूरभाष एवं अन्य माध्यमों से संपर्क स्थापित किया जाता है तो मानवता के रक्षार्थ इस प्रकार का अभियान चलाया जाना चाहिए ।

शिक्षकों के लिए सहायता पैकेज की घोषणा का अनुरोध

झारखंड नवनिर्माण मंच केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा छोटे एवं मझोले स्तर पर चल रहे हजारों निजी स्कूलों एवं कोचिंग संस्थानों के शिक्षकों के लिए सहायता पैकेज की घोषणा करने का आग्रह किया, क्योंकि ऐसे संस्थानों में आज भी लाखों गरीब विद्यार्थी शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। सीमित संसाधनों के बावजूद महामारी के कालखंड में ऐसे संस्थाओं में कार्यरत शिक्षकों  कर्मचारियों  के वेतन के लाले पड़े हुए हैं इसलिए इनकी सहायता के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार सकारात्मक निर्णय ले।

झारखंड नव निर्माण मंच जल्द ही किशोरों एवं नौनिहालों के टीकाकरण एवं जागरूकता को लेकर तथा कोविड प्रोटोकाल को लेकर जनजागरूकता कार्यक्रम एवं मास्क और सैनिटाइजर वितरण के कार्यक्रम आयोजित करेगा।

यह भी पढ़ें: Palamu News : वैक्सीन के दोनों डोज नहीं लेने वाले पुलिसकर्मियों के वेतन पर रोक, टास्क फोर्स की बैठक में लिए गए कई निर्णय

Related posts

टाटा मोटर्स कर्मी की बेटी श्रेया चटर्जी को मॉर्गन स्टेनली ने दिया 25.3 लाख का पैकेज

Pramod Kumar

Bank Holidays: इस महीने 6 दिन बंद रहेंगे बैंक! ब्रांच जाने से पहले देखें छुट्टियों की पूरी लिस्‍ट

Manoj Singh

नहीं रहीं ‘बालिका वधू’ की ‘दादी सा’, मुंबई में ली अंतिम सांस

Manoj Singh