समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

UP Election: आखिरी चरण के चुनाव में भी वही ‘आखिरी दांव’- दागियों के सहारे ‘गंगा पार’

UP Election: Same 'stake' in the last phase of elections - everyone has the support of the tainted

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

पांच राज्यों का चुनाव अपने अंतिम पड़ाव पर आ चुका है। मणिपुर में दूसरे और अंतिम चरण का मतदान जारी है, जबकि यूपी विधानसभा चुनाव के सातवें और आखिरी दौर का चुनाव प्रचार आज समाप्त हो जायेगा। इसके बाद 7 मार्च को मतदाता भी वोट देकर अपना फरमान जारी कर देंगे। फिर 10 मार्च को पता चल जायेगा कि किस पार्टी ने चुनावी बिसात पर कौन-कौन सी चालें चली हैं, और ये चालें कितनी सटीक रही हैं।

चुनाव के हर चरण की तरह सातवें और अंतिम चरण में भी पार्टियों ने फिर वही ‘सटीक’ चाल चली है- “दाग अच्छे हैं’। यानी दागी प्रत्याशियों को टिकट देने में किसी भी पार्टी ने कंजूसी नहीं की है। इस दौर में सपा के सबसे ज्यादा दागी मैदान में हैं। सपा के 45 में से 26 उम्मीदवार दागी हैं। यूपी से ‘माफिया’ सफाये का दावा करने वाली पार्टी बीजेपी भी दागियों पर मेहरबान रही है। बीजेपी के 47 में से 26 उम्मीदवार दागी हैं। बीएसपी के 52 में 20 और कांग्रेस के 54 में से 20 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले हैं।

भाजपा ने पिछली बार मारा था ‘छक्का’

सातवें और अंतिम दौर में आजमगढ़, मऊ, वाराणसी, जौनपुर, गाजीपुर, चंदौली, मिर्जापुर, सोनभद्र और भदोही जिलों में वोट पड़ेंगे। यहां कुल 613 उम्मीदवार मैदान में हैं। इस चरण में योगी सरकार के 5 मंत्रियों समेत कई दिग्गजों की किस्मत का भी फैसला होना है। 2017 में इन 54 में से 29 पर बीजेपी जीती थी। सपा को 11, बीएसपी को 6, अपना दल (एस) को 4, सुभासपा को 3 और निषाद पार्टी को 1 सीट मिली थी। अपना दल (एस) और निषाद पार्टी तो बीजेपी के साथ हैं, लेकिन सुभासपा ने इस बार सपा के साथ मिल कर चुनाव लड़ रही हैहै।

कई दिग्गजों की किस्मत दांव पर

इस चरण में कई दिग्गजों की साख दांव पर है। जिनमें सबसे ज्यादा निगाहें बीजेपी सरकार में मंत्री रहे दारा सिंह चौहान पर हैं। दारा सिंह चौहान इस बार सपा के टिकट पर मऊ की घोसी सीट से किस्मत आजमा रहे हैं। फिर योगी सरकार के मंत्री अनिल राजभर वाराणसी की शिवपुरी, मंत्री रवींद्र जायसवाल वाराणसी उत्तर, नीलकंठ तिवारी वाराणसी दक्षिण, मंत्री गिरीश यादव जौनपुर, मंत्री रमाशंकर सिंह पटेल मिर्जापुर की मड़िहान सीट दांव आजमा रहे हैं। इनके अलावा दुर्गा प्रसाद यादव नौवीं बार आजमगढ़ सीट से सपा के उम्मीदवार हैं। आलमबदी आजमी निजामाबाद सीट से, शाहगंज से शैलेंद्र यादव ललई, भदोही की ज्ञानपुर सीट से विजय मिश्रा भी मैदान में हैं। इनके अलावा सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर गाजीपुर की जहूराबाद सीट से और पूर्व सांसद तूफानी सरोज सपा की ओर से केराकत सीट से उतरे हैं। बाहुबली और पूर्व सांसद धनंजय सिंह जौनपुर की मल्हनी सीट से जेडीयू उम्मीदवार हैं। वहीं, एक और बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास मऊ सीट से सपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन से मिले तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव, गुरुजी के योगदान को किया याद

Related posts

National Press Day: सशक्त लोकतंत्र के निर्माण में मीडिया निभा रही अहम भूमिका

Annu Mahli

UP Election 2022: भाजपा चुनावी रणनीति बनाने में व्यस्त, विपक्षी एक दूसरे की टांग खींच कर मस्त

Pramod Kumar

पुलिस की मुखबिरी के आरोप में जमुई में माओवादियों ने की पिता-पुत्र की हत्या

Pramod Kumar