समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

लखीमपुर-खीरी: पूछताछ में असहयोग कर रहा केन्द्रीय मंत्रिपुत्र आशीष मिश्रा भेजा गया जेल

पूछताछ में असहयोग कर रहा केन्द्रीय मंत्रिपुत्र आशीष मिश्रा भेजा गया जेल

न्यूज डेस्क/समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

एक हफ्ते के अन्दर दो ‘नालायक’ बेटों ने अपने बाप की नाक कटा दी है। एक का बेटा ड्रग्स मामले में जेल में है। बॉलीवुड सुपर स्टार शाहरूख खान का बेटा आर्यन खान समुद्र में ड्रग पार्टी करते एनसीबी के हत्थे चढ़ा था। जबकि दूसरा ‘हत्या करने’ के जुर्म में जेल पहुंच गया है। ‘हत्या’ भले ही किसी ने की हो, लेकिन उसके अपराध की कीमत जनता की जेब से उसकी खून-पसीने की कमाई से चुकायी गयी है, क्योंकि लखीमपुर-खीरी में मारे गये लोगों के परिजनों को दिया गया 45-45 लाख रुपया जनता की ही तो कमाई है। दूसरा यह ‘नालायक’ बेटा केन्द्रीय राज्य मंत्री अजय मिश्रा का बेटा है जो आन्दोलनरत किसानों पर गाड़ी दौड़ा कर उन्हें मार डालने का आरोपित है।

पिता-पुत्र दोनों असहयोगी

लखीमपुर खीरी मामले के बाद न तो संविधान की शपथ लेने वाले केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी ने कानून के साथ सहयोग किया और ना ही उनके आरोपित बेटे आशीष मिश्रा ने। अजय मिश्रा शुरू से ही अपने बेटे को बचाते नजर आये। उनका बेटा निर्दोष था तो फिर उन्हें डर किस बात था, फिर वह क्यों कानून से असहयोग करते रहे। उनका बेटा आशीष मिश्रा ने ‘फरार’ रह कर अपने ऊपर शक की सूई को मजबूत किया है। शक तो पहले से था, मगर यह और भी गहरा तब हो गया जब उसने एसआईटी ऑफिस में लम्बी पूछताछ के बाद भी गोलमोल जवाब दिया।

इससे पहले, घर पर सम्मन चिपकाये जाने के बाद भी केन्द्रीय मंत्री ने कानून की मदद करना उचित नहीं समझा। चारों तरफ से पड़ रहे जवाब के बाद उनका बेटा एसआईटी ऑफिस पहुंचा भी तो पूरी योजना बनाकर कि वह पूछताछ में कोई सहयोग नहीं करेगा। जब एसआईटी आशीष मिश्रा के जवाबों से संतुष्ट नहीं हुई तो उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। यूपी पुलिस के डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने भी कहा कि आशीष मिश्रा पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहा है। इसलिए उसे गिरफ्तार किया गया है।

9 राउंड में आशीष मिश्रा से 40 सवाल

पुलिस सूत्रों के मुताबिक आशीष मिश्रा ने पूछताछ के दौरान गलत जवाब दिये और जांच में सहयोग नहीं किया। पुलिस ने आशीष मिश्रा से लखीमपुर केस में करीब 40 से अधिक सवाल पूछे, जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं मीडिया से बात करते हुए डीआईजी उपेंद्र अग्रवाल ने कहा कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहा था, इसलिए गिरफ्तार किया गया है। बाद में उसे मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया, जिसके बाद न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

लोकेशन की नहीं दी सही जानकारी

सूत्रों के मुताबिक एसआईटी की टीम ने घटना के वक्त आशीष मिश्रा से उसके लोकेशन के बारे में पूछा। बताया जा रहा है कि आशीष मिश्रा ने एसआईटी की टीम को कई सवालों के जवाब नहीं दिया। आशीष मिश्रा पर आईपीसी की 302, 120बी सहित कई धाराओं में केस दर्ज किया गया है।

यह भी पढ़ें: शारदीय नवरात्र: मां कूष्माण्डा की आराधना से लौकिक-पारलौकिक उन्नति का खुलता है मार्ग

Related posts

JEE Advanced 2023: IIT प्रवेश परीक्षा का संशोधित सिलेबस जारी, यहां चेक करें लेटेस्ट अपडेट

Manoj Singh

उर्फी जावेद के हॉट अवतार ने फैंस को किया घायल, इंस्टाग्राम पर शेयर की आग लगा देने वाली तस्वीरें

Manoj Singh

Tajmahal के 22 कमरों पर विवाद के बीच ASI ने जारी की तस्वीरें, ये असलियत आई सामने

Manoj Singh