समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

UGC का फैसला: केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में संयुक्त प्रवेश परीक्षा के बिना दाखिला नहीं, कम मार्क्स आये हैं तो भी नो टेंशन

UGC's decision: No admission in Central Universities without Joint Entrance Examination

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में दाखिला लेने का तरीका बदल गया है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने बड़ा फैसला लेते हुए विश्वविद्यालय संयुक्त प्रवेश परीक्षा को अनिवार्य कर दिया है। अब इसी परीक्षा के मार्क्स के आधार पर एडमिशन होगा। 2022-23 शैक्षणिक सत्र से यह नियम लागू हो जायेगा। 12वीं में ज्यादा नंबर नहीं लाने वाले छात्रों को चिंता रहती थी कि उनका एडमिशन कैसे होगा, अब ऐसे छात्र संयुक्त प्रवेश परीक्षा में शामिल होकर एडमिशन का मौका हासिल कर पायेंगे। यह नियम केंद्रीय विश्वविद्यालयों और उससे संबद्ध कॉलेजों में अंडरग्रेजुएट एडमिशन के लिए लागू होगा। जो 2022-23 शैक्षणिक सत्र से लागू हो जाएगा। हालांकि यूजीसी ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि विश्वविद्यालयों की प्रवेश परीक्षा में बैठने के लिए न्यूनतम पात्रता क्या होगी।

कम्प्यूटर बेस्ड होगी प्रवेश परीक्षा

यूजीसी के अनुसार प्रवेश परीक्षा में बैठने वाले छात्र 13 अलग-अलग भाषाओं, जिसमें अंग्रेजी और 12 मातृ भाषाएं होंगी, में परीक्षा दे पायेंगे। इसमें अनिवार्य रूप से एक लैंग्वेज पेपर होगा और 6 अलग-अलग विषयों में छात्र परीक्षा दे पाएंगे। इस नये पैटर्न की परीक्षा में छात्रों को बहुविकल्पीय प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। टेस्ट कंप्यूटर बेस्ड होगा। छात्र प्रश्नों को कॉपी में हल कर कंप्यूटर में टिक मार्क करेंगे। इस परीक्षा की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि छात्रों को कम्प्यूटर पर बस टिक करके अपने प्रश्नों के उत्तर देना है। अगर किसी विद्यार्थी को कम्प्यूटर ऑपरेट करना नहीं आता तब भी उसके लिए यह परीक्षा देना सरल होगा। पर हां, परीक्षा देने का तरीका भले आसान होगा, लेकिन नेगेटिव मार्किंग परीक्षा को रोचक बनायेगी।

यह भी पढ़ें: जनजातीय कार्य मंत्रालय ने आदिवासियों के समग्र विकास के लिए योजनाओं में किया सुधार

Related posts

बिहार के खगड़िया में पुलिस और अपराधियों के बीच हुई मुठभेड़, कुख्यात अपराधी समेत आधा दर्जन लोग गिरफ्तार

Sumeet Roy

Delhi Building Collapse: गुरुग्राम के बाद दिल्ली के बवाना में बड़ा हादसा,भरभरा कर गिरे कई फ्लैट्स, मची अफरा-तफरी

Manoj Singh

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने जमशेदपुर के कीनन स्टेडियम में 12-14 आयु वर्ग के वैक्सीनेशन कार्यक्रम का किया शुभारंभ

Sumeet Roy