समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Omicron के खतरे से निबटने की तैयारी: झारखंड ने तेज की कोरोना जीनोम सैंपल की सिक्वेंसिंग

Omicron

Jharkhand Omicron: देशभर में अब तक कुल 360 ओमीक्रॉन के मामले आ चुके हैं। सुखद बाद यह अब तक 100 से अधिक मरीज स्वस्थ भी हो चुके है। देश में अब तक ओमीक्रॉन से किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई  है। पूरे विश्व में अब तक डेढ़ लाख से ज्यादा ओमीक्रॉन वेरिएंट के मामले आ चुके हैं जिनमें अब तक 26 लोगों की मौत हुई है, इनमें 24 ब्रिटेन के हैं।

देश में बढ़ते ओमीक्रॉन के संकट को देखते हुए झारखंड भी सतर्क हो गया है। इसी के मद्देनजर प्रशासन ने झारखंड में कोरोना संक्रमित सभी सैंपल की जीनोम सिक्वेंसिंग करा रहा है। ताकि जरूरत पड़ने पर इस सैंपल का इस्तेमाल अध्ययन के लिए किया जा सके। इसके साथ राज्य में जो RTPCR जांच कार्यक्रम चल रहा है उसको तेज करने के लिए एक निजी एजेंसी से MOU किया है। यह करार सिकन्दराबाद के बायोजेन लैब्स इंडिया प्रा.लि. से किया गया है। प्रशासन चाहता है कि RTPCR जांच के जो भी सैंपल आ रहे हैं वे पेंडिंग न रह पायें।

रांची और कोडरमा में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ी

पिछले दिनों कोडरमा और रांची जिलों में कोरोना संक्रमित की संख्या तेजी से बढ़ी है। बढ़ते संक्रमण से प्रशासन चौकन्ना है कि कहीं यह ओमीक्रोन की आहट तो नहीं है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग और IDSP Jharkhand ने बड़ा फैसला लिया कि कोडरमा और रांची में कोरोना के जो भी पॉजिटिव सैंपल हैं उनको जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भुवनेश्वर भेजा जाएगा।

यह भी पढ़ें: नेता प्रतिपक्ष के हनीमून के ‘विपक्ष’ में ईडी, जमा करा लिया है पासपोर्ट तो पत्नी संग कैसे जायें विदेश

Jharkhand Omicron

Related posts

Brahmin-Dalit Ekta Bhoj : जीतन राम मांझी के ब्राह्मण भोज में बवाल, फोटो खिंचवाने के चक्‍कर में थाली पर ही गिरे लोग

Manoj Singh

फिर यूपी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी को बहुत कुछ दिया, गाय का महत्व समझाया

Pramod Kumar

Bollywood: उर्वशी रौतेला की फिटनेस के दीवाने 40 मिलियन, जश्न मनाने के लिए वजह काफी

Pramod Kumar