समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

आबकारी के ‘खेल’ में फंसे मनीष सिसोदिया, सीबीआई ने मारा छापा तो बौखला गयी आप, पर आबकारी नीति पर चुपचाप

This time CBI reached Manish Sisodia's house, you were shocked

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार की नई आबकारी नीति विवादों में है। इसी आबकारी नीति को लेकर एक FIR की गयी थी, जिसके बाद सीबीआई एक्शन में है और दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और IAS अधिकारी गोपी कृष्ण के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। इतना ही नहीं, CBI की टीमों ने सात राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 21 जगहों पर दबिश दी है। इस कार्रवाई पर आप के बड़े नेताओं का यही कहना है कि छापेमारी में कुछ नहीं मिला है, लेकिन बताया जा रहा है कि सीबीआई हाथों कुछ अहम दस्तावेज लगे हैं। छापेमारी के बाद सीबीआई ने एफआईआर दर्ज कर ली है।

दिल्ली सरकार पर क्या हैं आरोप

दिल्ली सरकार पर बड़ा आरोप यह है कि नई एक्साइज ड्यूटी में कई तरह की गड़बड़ी हुई है। नयी शराब नीति बनाकर लाइसेंसधारियों को अनुचित लाभ पहुंचाया गया है। नयी आबकारी नीति में दिल्ली सरकार पर गड़बड़ियों के जो आरोप लगे हैं, वे इस प्रकार हैं-

  • दिल्ली लाइसेंस देने के नियमों की भी अनदेखी की गई।
  • टेंडर होने के बाद शराब ठेकेदारों के 144 करोड़ रुपए माफ किये गए।
  • कोरोना महामारी के बहाने लाइसेंस की फीस माफ की गई।
  • रिश्वत लेकर शराब कारोबारियों को लाभ पहुंचाया गया।
  • नई आबकारी नीति के तहत लिए गए फैसलों से राज्य को राजस्व का भी भारी नुकसान हुआ है।
  • नई शराब नीति कारोबारियों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से लायी गयी है।
मनीष सिसोदिया के बचाव में उतरी आप, आबकारी नीति पर ‘निःशब्द’

आप के सत्येन्द्र जैन पर ईडी की कार्रवाई के बाद मनीष सिसोदिया पर हुई सीबीआई कार्रवाई से बौखलाई आप हमलावर हो गयी है। सभी आप नेता के बाद मनीष सिसोदिया के बचाव में उतर आये है। आप नेता सीबीआई कार्रवाई की आलोचना कर रहे हैं, इसको लेकर भाजपा सरकार को कोस रहे हैं। सभी मनीष सिसोदिया के गुणगान कर रहे हैं। लेकिन किसी भी नेता ने आबकारी नीति पर अपना मुंह नहीं, खोला उससे भी दिल्ली सरकार की आबकारी नीति पर संदेह बढ़ जाता है।

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा ने सीबीआई की कार्रवाई को हास्यास्पद बताते हुए कहा कि जांच एजेंसी को छानबीन में ज्योमेट्री बॉक्स, पेंसिल और रबर मिले हैं। उन्होंने यह भी कहा कि अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में सरकार बनाई, दूसरे राज्यों में आप अपनी पैठ बनाती जा रही है। यह भाजपा से देखा नहीं जा रहा। उन्होंने कहा आज लोग केजरीवाल केजरीवाल शासन, उनके शिक्षा मॉडल और स्वास्थ्य  मॉडल की बात कर रहे हैं। लेकिन जिस आबकारी नीति को लेकर छापेमारी हुई उस पर उन्होंने कुछ नहीं कहा।

खुद मनीष सिसोदिया ने कहा कि सीबीआई आयी है, हम उसका स्वागत करते हैं. जांच में पूरा सहयोग देंगे। अभी तक मुझ पर कई केस किए गये, लेकिन कुछ नहीं निकला। इसमें भी कुछ नहीं निकलेगा। देश में अच्छी शिक्षा के लिए मेरा काम रोका नहीं जा सकता। ये लोग दिल्ली की शिक्षा और स्वास्थ्य के शानदार काम से परेशान हैं। इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और शिक्षा मंत्री को पकड़ा गया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मनीष सिसोदिया के समर्थन में ट्वीट किया है। उन्होंने लिखा कि दिल्ली के शिक्षा और स्वास्थ्य मॉडल की पूरी दुनिया चर्चा कर रही है। इसे ये रोकना चाहते हैं। इसीलिए दिल्ली के स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रियो पर रेड और गिरफ्तारी। 75 सालों में जिसने भी अच्छे काम की कोशिश की, उसे रोका गया। इसीलिए भारत पीछे रह गया। लेकिन अपनी आबकारी नीति में कुछ भी गलत नहीं है, इस पर उन्होंने भी कुछ नहीं कहा।

यह भी पढ़ें: बिहार की सियासत में अब दामाद की एंट्री, सरकारी बैठक में शामिल हुए लालू के दामाद, BJP ने कसा तंज

Related posts

नये साल 2022 का जश्न शुरू, दुनिया के छोटे देश समोआ ने सबसे पहले मनाया नववर्ष

Pramod Kumar

ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में ASI सर्वेक्षण पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लगायी रोक

Pramod Kumar

Palamu : करंट की चपेट में आकर मौत, बिजली विभाग की लापरवाही ने ली बुजुर्ग की जान

Manoj Singh