समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

फिर कलंकित हुआ शिक्षा का मन्दिर: DAV Kapildev School की नर्स ने लगाया प्राचार्य पर यौन शोषण का आरोप, ”अश्लील वीडियो भेज बनाना चाहते हैं शारीरिक संबध”

picture: social media

DAV Kapildev School :राजधानी स्थित DAV कपिलदेव स्कूल (Kapildev School) के प्रिंसिपल पर स्कूल में कार्यरत नर्स ने यौन शोषण का आरोप लगाया है। पीड़िता ने डीएवी कपिलदेव के प्रिंसिपल मनोज कुमार सिन्हा के खिलाफ इस संबंध में अरगोड़ा थाना में एफआईआर दर्ज कराया है। पीड़िता ने अपने आवेदन में कहा कि प्राचार्य (Kapildev School) हर रोज ब्लड प्रेशर जांच कराने के बहाने अपने चैंबर में बुलाते थे फिर धीरे-धीरे उसका प्राइवेट पार्ट टच करने लगते थे  प्राचार्य की मंशा भांप वह सतर्क हो गयी थी, इसलिए वह हमेशा अपने साथ अपना फोन ऑन करके जाती थी। इसकी जानकारी प्राचार्य को नहीं थी। पीड़िता ने प्राचार्य की इस काली करतूत का वीडियो बना लिया। इसे सबूत के तौर पर पुलिस के समक्ष पेश किया गया है।

शारीरिक संबंध बनाने के डालते थे दबाव

इतना ही नहीं, प्राचार्य शारीरिक संबंध बनाने के लिए दबाव डालते थे। खाली समय पर वाट्सएप चैट या कॉल करने का दबाव भी बनाते थे। उसने कहा कि प्रिंसिपल उनके वाट्सएप पर अश्लील वीडियो भी भेजते थे। कई बार उन्होंने न्यूड वीडियो कॉल करने के लिए दबाव भी बनाया। पीड़िता ने कभी उसकी बात नहीं मानी।

आर्थिक स्थिति नहीं है अच्छी इसलिए करनी पड़ी नौकरी

पीड़िता ने थाना में दिए गए अपने आवेदन में कहा है कि वह बहुत गरीब परिवार से है और नौकरी करना उसके लिए बहुत जरूरी है। चूंकि घर की जिम्मेदारी उसके ऊपर है इसलिए वह काम कर रही है।

जबरदस्ती करने की भी की थी कोशिश

पीड़िता के मुताबिक एक दिन तो प्रिंसिपल जबरन उसके कमरे में चले आए और उसके साथ जबरदस्ती करने लगे, उसका वीडियो भी उसके पास है। इस संबंध में उसने स्कूल के अन्य शिक्षकों से भी ये बात शेयर की, लेकिन तब तक लॉकडाउन हो गया और स्कूल बंद हो गया।

पहले भी महिला प्रिंसिपल के व्यवहार से तंग आकर स्कूल छोड़ चुकी है

पीड़िता ने अपने शिकायत पत्र में लिखा है कि इससे पहले भी महिला  प्रिंसिपल के व्यवहार से तंग आकर स्कूल छोड़ चुकी हैं। कुछ लोग नौकरी जाने के डर से प्रिंसिपल के खिलाफ आवाज नहीं उठाते हैं। इस मामले में थाना प्रभारी विनोद कुमार ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद अनुसंधान किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें : राष्ट्रीय खेल घोटाले में बंधु तिर्की के बनहोरा और मोरहाबादी आवासों पर CBI की छापेमारी

Related posts

Jharkhand की नयी शराब नीति को हरी झंडी! सरकार को राजस्व की चिंता, कारोबारियों की नहीं

Pramod Kumar

Lalu’s Son-in-law: बिहार की सियासत में अब दामाद की एंट्री, सरकारी बैठक में शामिल हुए लालू के दामाद, BJP ने कसा तंज

Manoj Singh

‘व्यवसायी नहीं आदिवासी का बच्चा हूं, डरेगा नहीं’, सियासी हलचलों के बीच गरजे CM हेमंत

Manoj Singh