समाचार प्लस
Breaking राँची

शहीद: देश मना रहा है आजादी का जश्न , जवान की मौत से रातू के ब्रजपुर में छा गया मातम

शहीद

शहीद: एकतरफ देश आजादी का जश्न मना रहा है, वहीं दूसरी तरफ देश की रक्षा करने वाले एक शहीद जवान के पैतृक गांव ब्रजपुर में मातम छा गया है. भारत माता का एक सपूत शहीद दशरथ उरांव पंजाब रेजिमेंट में पोस्टेड था जिनका ब्रेन हेमरेज हो जाने से देहांत हो गया. शनिवार को उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक शहर रांची पहुंचा है.
दशरथ उरांव रातू थाना क्षेत्र स्थित ब्रजपुर गांव के रहने वाले थे. एयरपोर्ट से उनका शव उनके पैतृक गांव मांडर थाना क्षेत्र के बरगड़ी में ले जाया जाएगा. जहां पारंपरिक रीति-रिवाज से उनका अत्येष्टि कार्यक्रम होगा.
ईएमई सेक्शन में नायक थे जवान
बता दें कि जवान दशरथ उरांव 26 पंजाब रेजिमेंट में ईएमई सेक्शन में नायक के पद पर कार्यरत थे. वह मूल रूप से मांडर थाना क्षेत्र के बरगड़ी के रहने वाले थे. उन्होंने बाद में रातू के ब्रजपुर में घर बनवाया था. जहां उनकी पत्नी शकुंतला कुमारी, एक बेटा आठ साल का अविनाश उरांव व एक बेटी तीन साल की श्रेया कुमारी के साथ रहती हैं. पत्नी सरकारी स्कूल की शिक्षिका हैं. उनके दोनों बच्चे मदर इंटरनेशनल स्कूल ब्रांबे में पढ़ते हैं.
साथी जवानों ने दी थी उनकी मौत की सूचना
जानकारी के अनुसार दशरथ 23 जुलाई, 2003 को सेना में बहाल हुए थे। वह पंजाब रेजिमेंट में और पंजाब में ही पदस्थापित थे. शुक्रवार को यूनिट परिसर में ही उनका ब्रेन हेमरेज हो गया, जिससे उनकी मौत हो गई। रेजिमेंट के साथी जवानों ने ही उनकी मौत की सूचना परिजनों को दी थी.

इसे भी पढ़े: 75th Anniversary: लाल किले से बोले पीएम- खेलों में टैलेंट, टेक्नोलॉजी और संसाधन बढ़ाने का काम होगा तेज

Related posts

Nitish Kumar की स्टाइल में ‘छोटी मछली’ को पकड़ा है, सरकार में आएंगे तो ‘बड़ी मछली’ पकड़ेंगे- Tejashwi Yadav

Sumeet Roy

गुप्त सूचना पर रांची पुलिस और सशस्त्र बल की संयुक्त छापामारी में दो माओवादी गिरफ्तार

Pramod Kumar

सावधान : एक बार फिर कोरोना के मामलों में बड़ा उछाल, 24 घंटे में आए 43 हजार से ज्यादा नए केस

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.