समाचार प्लस
Breaking पटना फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

Bihar में टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी लॉन्च, CM नीतीश की लुभावन पॉलिसी उद्योगों के साथ खोलेगी रोजगार के नये द्वार

Textile and leather policy launched in Bihar, Nitish's tempting policy

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने महत्वाकांक्षी टेक्सटाइल और लेदर पॉलिसी लॉन्च कर दी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अधिवेशन भवन में आयोजित कार्यक्रम में उद्योग पॉलिसी की घोषणा की। बिहार के मुख्यमंत्री की इस पॉलिसी से राज्य में जहां उद्योगों की स्थापना हो सकेगी, वहीं यहां के निवासियों के लिए रोजगार के द्वारा भी खुलेंगे।

मुख्यमंत्री ने बिहार में उद्योगों के प्रोत्साहन के लिए उद्योगपतियों को कपड़ा-चर्म उद्योग लगाने पर अनुदान का आश्वासन दिया है। इसके साथ ही बिजली बिल और निर्यात पर भी सब्सिडी की घोषणा की है। बिहार में कपड़ा और चमड़ा उद्योग लगाने के इच्छुक उद्योगपतियों से 30 जून 2023 तक आवेदन मांगा गया है। नीतीश कुमार ने पटना में उद्योग विभाग के लेदर टेक्सटाइल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हमने 2006 में ही उद्योग नीति बना ली थी अब उस पर आगे कदम बढ़ाते हुए बिहार को लेदर एवं टेक्सटाइल हब बनाने जा रहे हैं।

सीएम नीतीश कुमार ने बिहार के उद्योगपतियों से आग्रह किया कि बिहार में आकर काम करें, उन्हें हर प्रकार की सुविधा मिलेगी। बिहार के लोगों को बाहर जाकर काम करने की जरूरत नहीं है।

बिहार में लगातार उद्योग-धंधों को बढ़ावा

एक दिन पहले यानी बुधवार को उद्योग मंत्री शहनवाज हुसैन ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा था कि सीएम नीतीश कुमार के सहयोग से बिहार में लगातार उद्योग-धंधे को बढ़ावा मिल रहा है। इसी को ध्यान में रखकर उद्यमियों को बिहार में आमंत्रित करने के लिए पॉलिसी बनायी गयी है। बिहार सरकार कंपनियों को सहायता देने के साथ-साथ उनको अनुदान देने का भी काम करेगी। राज्य में गारमेंट्स उद्योग के लिए बड़ा स्कोप है। कई कंपनियों ने बिहार में निवेश को लेकर रुचि दिखाई है। आज बांग्लादेश और वियतनाम ने इसमें भारत को पीछे कर दिया है, लेकिन हमारी कोशिश है कि बिहार को जल्द से जल्द टेक्सटाइल हब बनाया जाए। बिहार में इसकी पूरी संभावना भी है।

यह भी पढ़ें: RBI की कार्यवाही, काबू में आयेगी महंगाई! रेपो रेट को बढ़ाकर किया 4.90 फीसदी, शेयर बाजार पर भी दिखा असर

Related posts

Jharkhand: विभिन्न संगठनों ने उपवास रखकर दी अपने धरती आबा को श्रद्धांजलि

Pramod Kumar

अपनी पहचान की तलाश में झारखंड के दो माननीय, पार्टी में भी रहकर बेगाने प्रदीप यादव और बंधु तिर्की

Pramod Kumar

JAC Exam 2023: अब दो नहीं, बल्कि एक ही टर्म में होगी मैट्रिक इंटर परीक्षा, शिक्षा मंत्री ने दिया निर्देश

Manoj Singh