समाचार प्लस
Breaking अपराध देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

प्यार से शुरू कहानी का खौफनाक अंत, लिव इन प्रेमी ने किया दुनिया से आउट, लाश को 35 टुकड़ों में काटा, दिल्ली भर में फेंका

Terrible end of the story started with love, live in lover out of the world

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

एक लड़की जिसने अपने प्रेमी को जीभर के प्यार किया, उस पर हद से ज्यादा विश्वास किया, मगर उसे मिला क्या? मौत! मौत भी ऐसी कि जिसे सुन कर रूह कांप उठे। यह मौत भी उसे इसलिए मिली, क्योंकि उसका प्रेमी उससे शादी नहीं करना चाहता था और लड़की उससे शादी करने की जिद कर रही थी। लेकिन लड़की को क्या पता था कि शादी करने की उसकी जिद से भारी पड़ेगी और लिव इन में रहना वाला उसका प्रेमी ही उसे दुनिया से आउट कर देगा।

यह महज कोई कहानी नही, हकीकत है मुम्बई में रहने वाली (अब इस दुनिया में नहीं) श्रद्धा की। आज नहीं करीब 6  महीने पहले आफताब अमीन पूनावाला नाम के  शख्स ने उसकी हत्या कर दी। आफताब को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, लेकिन वह इस मुगालते में जी रहा था कि हत्या करके लाश को छुपाने का जो यत्न वह कर रहा है, उससे वह पुलिस की आंखों में धूल झोंक देगा, और पुलिस उस तक नहीं पहुंच पायेगी। 6 महीने पहले अपनी प्रेमिका श्रद्धा की हत्या कर उसकी लाश के उसने 35 टुकड़े किये। लाश को सुरक्षित रखने के लिए उसने एक बड़ा फ्रिज खरीदा। उसमें उसने लाश के टुकड़े छुपाये और दिल्ली के हर कोने में फेंकता रहा। अब दिल्ली पुलिस आफताब से पूछताछ कर श्रद्धा के शव के टुकड़ों को ढूंढने में लगी हुई है।

मुम्बई में आफताब से मिली थी श्रद्धा, फिर दोनों आये करीब

आफताब और श्रद्धा कुछ सालों से लिव इन रिलेशन में थे। महाराष्ट्र के पालघर में अपने पिता विकास मदान वाकर के साथ रहने वाली श्रद्धा मुम्बई के कॉल सेंटर में जॉब करती थी। वहीं पर आफताब से उसकी मुलाकात हुई थी। नजदीकियां बढ़ने के बाद दोनों साथ रहने लगे। लम्बे समय तक लिव इन में रहने के बाद श्रद्धा ने आफताब से शादी करने की बात कही। फिर उसने दबाव बनाना भी शुरू किया। लेकिन आरोपी आफताब के मन में कुछ और था। अपने प्यार को धोखा देने, अपनी जिन्दगी से ही नहीं दुनिया से भी बाहर करने की उसने साजिश बनायी। आफताब श्रद्धा को धोखे से दिल्ली लेकर आया। श्रद्धा को क्या पता था कि मुम्बई से दिल्ली का यह सफर उसका आखिरी सफर होगा। जिस साजिश के तहत आफताब श्रद्धा को दिल्ली लाया, उसने वैसा ही उसके साथ किया। पहले गला दबाकर उसकी हत्या की, शव को 35 टुकड़ों में काटा और दिल्ली के हर कोने में फेंक दिया। यह प्यार से शुरू हुई कहानी का एक बेहद की दर्दनाक अंत था।

पिता ने महरौली थाने में दर्ज करायी थी एफआईआर

मुम्बई से दिल्ली आने के बाद श्रद्धा के पिता विकास मदान वाकर को जब अपनी बेटी से लम्बे समय तक कोई सम्पर्क नहीं हुआ तब उन्होंने 8 नवंबर को बेटी श्रद्धा के अपहरण की FIR दिल्ली के महरौली थाने में दर्ज कराई थी।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: शिवांग के भी ‘भगवान’ बने सोनू, मां की मदद की गुहार पर सोनू ने बिना समय गंवाए बुलाया मुम्बई

Related posts

PM की सुरक्षा चूक पर ‘सुप्रीम’ सुनवाई, अब सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज करेंगे जांच

Manoj Singh

भारत ने दिया पाकिस्तान-चीन को जोर का झटका!, अधूरी रह गयी तालिबान की UN महासभा जाने की इच्छा

Pramod Kumar

BAU में करियर निर्माण को लेकर हुआ विशेष व्याख्यान, ‘समय पर उचित निर्णय लेने की क्षमता जरूरी’ 

Manoj Singh