समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

राज्यसभा चुनाव से पहले पत्नी संग लंदन रवाना हुए Tejashwi Yadav, साथ क्यों गए मनोज झा ?

Tejashwi Yadav london

Patna: बिहार में राज्यसभा चुनाव में प्रत्याशियों के चयन को लेकर चर्चाओं का बाजार गरम है, इसी बीच नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने लंदन की फ्लाइट पकड़ ली है। तेजस्वी यादव के दफ्तर की ओर से मिली जानकारी के अनुसान नेता प्रतिपक्ष इंग्लैंड में आयोजित होने वाले आइडियाज फॉर इंडिया कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेने के लिए लंदन गए हैं। पटना एयरपोर्ट से तेजस्वी यादव ने बुधवार सुबह करीब 8:30 बजे की फ्लाइट से दिल्ली रवाना हुए हैं। इसके बाद दिल्ली से वह लंदन की फ्लाइट में सवार होंगे। तेजस्वी यादव के साथ उनकी पत्नी रेचल ऊर्फ राजश्री और राज्यसभा सांसद मनोज झा भी लंदन जाएंगे।

तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) 18 से 23 मई तक इंग्लैंड में आइडिया फॉर इंडिया कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेंगे। यह भी बताया गया है कि तेजस्वी यादव इस कॉन्फ्रेंस में भारत को लेकर अपना पक्ष रखेंगे। बताया जा रहा है कि इस कॉन्फ्रेंस का विषय आने वाले 25 साल भारत के लिए कैसा रहेगा है। इस दौरे पर तेजस्वी यादव इंग्लैंड में बसे बिहार के लोगों से भी मुलाकात करेंगे।

राज्यसभा चुनाव के टिकट बंटवारे की बैठक से नदारद रहे तेजस्वी
उधर, आरजेडी की मंगलवार को राज्य संसदीय बोर्ड और केन्द्रीय संसदीय बोर्ड की अलग -अलग हुई बैठक में सर्वसम्मति से राज्यसभा और विधान परिषद द्विवार्षिक चुनाव के लिए प्रत्याशियों के नाम का चयन के लिए पार्टी अध्यक्ष लालू प्रसाद को प्राधिकृत कर दिया। राज्य संसदीय बोर्ड की अध्यक्षता अवध बिहारी चौधरी तथा केन्द्रीय संसदीय बोर्ड की अध्यक्षता राबड़ी देवी ने की, हालांकि इस बैठक में RJD के नेता तेजस्वी यादव ने भाग नहीं लिया।

बैठक में हालांकि मीसा भारती और तेज प्रताप सहित कई वरिष्ठ नेताओं ने हिस्सा लिया। ऐसे में तेजस्वी की अनुपस्थिति के बाद कई सवाल उठ रहे हैं। उल्लेखनीय है कि बिहार में राज्यसभा की पांच सीटों के लिए चुनाव की घोषणा हो चुकी है। सभी पार्टियां अपने प्रत्याशियों को तय करने में जुटी हैं। राज्यसभा के लिए 10 जून को होने वाले राज्यसभा चुनाव में संख्या बल के हिसाब से RJD को एक सीट का फायदा होगा, जबकि सत्ताधारी पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) को एक सीट का नुकसान हो सकता है।

जुलाई में बिहार से पांच सीटें खाली हो रही हैं। उनमें से एक केंद्रीय मंत्री और जेडीयू के वरिष्ठ नेता आर सी पी सिंह की सीट है। उनके अलावा बीजेपी के गोपाल नारायण सिंह और सतीश चंद्र दूबे भी कार्यकाल पूरा करने वालों में होंगे। RJD से मीसा भारती की सीट भी है, जो सात जुलाई को खाली हो रही है। इसके अतिरिक्त एक सीट शरद यादव की है, जो जदयू कोटे से राज्यसभा पहुंचे थे। संख्याबल के हिसाब से संभावना व्यक्त की जा रही है कि बिहार में पांच सीटों के लिए हो रहे चुनाव में मुख्य विपक्षी पार्टी RJD को एक सीट का फायदा हो सकता है जबकि भाजपा अपनी दोनों सीटे बचा पाने में सफल रहेगी। जदयू को एक सीट का नुकसान उठाना पड़ सकता है।

इसे भी पढें: Jharkhand: गायब हो चुके हैं हेमंत सोरेन को माइंस लीज देने वाले डीएमओ!

Related posts

Covid-19: कोरोना संक्रमण मामलों में कमी नहीं, 44 हजार नये मामले, 496 जानें गयीं

Pramod Kumar

यात्रिगण कृपया ध्यान दें! रांची से फिर से शुरू हो रहीं कई ट्रेनें, रांची-वाराणसी इंटरसिटी 20 अगस्त से

Pramod Kumar

बिहार के राज्यपाल ने बाबा बैजनाथ मंदिर में की पूजा, देशवासियों के कल्याण के लिए की प्रार्थना

Pramod Kumar