समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Taliban की मुश्किलें: ब्रिटेन मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी में, फंड के लिए रुलायेगा अमेरिका

ब्रिटेन तालिबान को मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी में

ब्रिटेन के विदेश मंत्री डॉमनिक राब (Dominic Raab) की मानें तो ब्रिटेन तालिबान को मुंहतोड़ जवाब देने की तैयारी में है। ब्रिटिश विदेश मंत्री राब ने कहा कि अफगानिस्तान में आतंक मचाने वाले तालिबान के खिलाफ ब्रिटेन बड़ा कदम उठाने वाला है। उन्होंने कहा कि तालिबान को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए ब्रिटिश अपने सभी संसाधनों का इस्तेमाल करेगा। उन्होंने कहा कि ब्रिटेन अफगानिस्तान को दी जाने वाली सभी विकास सहायता पर प्रतिबंध लगायेगा। हालांकि ब्रिटेन की पहली प्राथमिकता फिलहाल अपने नागरिकों और पिछले 20 वर्षों में अफगानिस्तान में किये अपने निवेश की सुरक्षा सुनिश्चित करना है।

अमेरिका की तैयारी – तालिबान को न मिले फूटी कौड़ी

अफगानिस्तान में भले ही तालिबान का कब्जा हो चुका है, लेकिन उसके सामने सबसे बड़ी समस्या फंड को लेकर आयेगी। तालिबानी भले ही अफगानिस्तान में सरकार गठित करने की तैयारी में है, लेकिन देश चलाने के लिए फंड कहां से आयेगा, इसकी समस्या उसके सामने आने वाली है। अमेरिका ने तालिबान को पाई-पाई का मोहताज करने का उपाय किया है। तालिबानियों को आसानी से फंड ना मिल सके इसके लिए अमेरिका ने सख्त कदम भी उठाया है। अफगान केंद्रीय बैंक की करीब 10 अरब डॉलर की संपत्ति अमेरिका में है। वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, बाइडेन प्रशासन ने अमेरिकी बैंकों में रखी अफगान सरकार की संपत्ति को फ्रीज कर दिया है। एक अफगान अधिकारी के अनुसार, देश के केंद्रीय बैंक द अफगानिस्तान बैंक (डीएबी) के पास विदेशी मुद्रा, सोना और अन्य खजाना है। हालांकि, यह कुल संपत्ति कितनी है, इसकी सटीक जानकारी स्पष्ट नहीं है। हालांकि जो सम्पत्ति अफगानिस्तान के बाहर रखी गयी है, वहां तक पहुंच पाना तालिबान के लिए मुश्किल होगा।

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान में तालिबान की वापसी से इमरान सरकार और आईएसआई के खिलाफ गुस्सा

Related posts

Tokyo Paralympics में बरसे पदक, अवनि लेखरा को गोल्ड, योगेश और देवेंद्र की चांदी, सुंदर गुर्जर को कांसा

Pramod Kumar

साहिबगंज: पहाड़िया परिवार के आधा दर्जन बच्चे फूड पॉइजनिंग के शिकार, सदर अस्पताल में चल रहा इलाज

Manoj Singh

कल्याण विभाग के सचिव ने की छात्रवृत्ति मामलों की समीक्षा, छात्रवृत्ति आवेदन की तिथि बढ़ी

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.