समाचार प्लस
Breaking खेल देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

T20 World Cup:  कीवियों के खिलाफ टीम इंडिया के साथ कप्तान विराट कोहली की भी अग्निपरीक्षा

T20 World Cup

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड- बिहार

अब से कुछ घंटे के बाद भारत और न्‍यूजीलैंड की टीमें दुबई में T20 World Cup में आमने-सामने होंगी। दोनों ही टीमों का सबकुछ दांव पर लगा हुआ है। दोनों ही टीमें अपने पहले मुकाबले में पाकिस्तान से पिट चुकी हैं। न्यूजीलैंड के लिए यह मैच जीतना अहम तो है ही, टीम इंडिया भी उसी स्थिति में है। जीतना उसे भी हर हाल में है। एक और बात जीत-हार से अहम है, वह है विराट कोहली की कप्तानी। T20 टीम इंडिया के कप्तान के रूप में उनका यह आखिरी टूर्नामेंट है। इस लिहाज से वह चाहेंगे कि कप्तान के रूप में टीम इंडिया में एक निशान छोड़ कर जायें। जीत के साथ विदा होना उनके लिए गौरव की बात होगी। इसलिए आज के मैच कितना अहम है, यह कप्तान कोहली अच्छी तरह जानते हैं।

आज के मैच में कप्तान कोहली के लिए सबसे अहम है परफेक्ट प्लेइंग इलेवन का चयन। न्यूजीलैंड की गेंदबाजी की धार को देखते हुए बल्लेबाजी क्रम उतना ही मजबूत रखना होगा। पाकिस्तान के साथ मैच में विराट कोहली को छोड़कर भारत का टॉप ऑर्डर पूरी तरह से बिखर गया है। बल्लेबाजों ने तो खैर थोड़ा सम्मानजनक स्कोर खड़ा कर दिया, लेकिन गेंदबाजों ने तो सारा काम ही बिगाड़ दिया। इसलिए दोनों क्षेत्रों को मजबूत करने की जरूरत है, भले टीम में थोड़े परिवर्तन क्यों न करने पड़ें।

पाकिस्तान के साथ मैच में हार्दिक पांड्या और भुवनेश्वर कुमार कमजोर कड़ी के रूप में सामने आये हैं। लेकिन मेंटर महेन्द्र सिंह धौनी के कारण हार्दिक पांड्या पर कोहली मेहरबान हो सकते हैं, लेकिन यह निर्णय कितना सही साबित होगा, यह तो मैच में ही पता चल पायेगा, बशर्ते उनका प्लेइंड 11 में सलेक्शन होता है। वर्चुअल कॉन्फ्रेंस में भुवनेश्वर कुमार को बारे में कप्तान कोहली ने जिस तरह ‘कुछ’ कहा, इससे नहीं लगता कि न्यूजीलैंड के खिलाफ वह टीम में होंगे। लेकिन विराट कोहली के सामने विकेटकीपर बल्लेबाजी ईशान किशन, शार्दुल ठाकुर और आर. आश्विन के विकल्प भी हैं। इनका क्या और कैसा उपयोग हो सकता है, यह कप्तान और टीम मैनेजमेंट को सोचना होगा। भले ही यह दुविधा हो कि किसे खेलाना चाहिए या किसे नहीं, लेकिन एक संतुलित टीम चुनने का दबाव कप्तान कोहली पर तो रहेगा ही।

टीम इंडिया ने क्रिकेट जगत में कई मुकाम हासिल किये हैं, कई हैरत अंगेज रिकॉर्ड्स भी बना डाले हैं, लेकिन यह बड़ी हैरत की बात है कि 18 वर्षों से आईसीसी टूर्नामेंट में भारत ने न्यूजीलैंड के विरुद्ध कोई जीत दर्ज नहीं की है। 2003 में आयोजित वनडे वर्ल्डकप में भारत ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट से मात दी थी। इसके बाद साल 2019 के विश्व कप के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने भारत को मात देकर उसके फाइनल में पहुंचने की उम्मीदों पर पानी डाल दिया था। दोनों टीमों के बीच अब तक 16 T20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले खेले जा चुके है, जिसमें से कीवी टीम ने 8 में जीत प्राप्त कर ली है जबकि भारत को 6 में जीत मिली है। अब ये देखना दिलचस्प होगा कि क्या टीम इंडिया 18 वर्षों से चले आ रहे हार के मनहूस रिकॉर्ड को आज तोड़ पाती है या नहीं।

यह भी पढ़ें: T20 WC: पाकिस्तान ने इतिहास पलटा, अब भारत की बारी, जीते तो बहार, हारे तो बाहर

Related posts

अमेरिका में लोकतंत्र पर चर्चा:  वर्चुअल समिट में भारत को मिला न्योता मगर चीन दरकिनार

Pramod Kumar

Sidharth Malhotra का ‘Yodha’ अवतार आया सामने, रोंगटे खड़े कर देगा एक्टर का दमदार लुक

Vaidya Ritika Gautam

समय के साथ बदलता गया भारतीय डाक विभाग, बैंकिंग क्षेत्र में भी मनवा रहा अपना लोहा

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.