समाचार प्लस
Breaking खेल फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

T20 WC: आस्ट्रेलिया या न्यूजीलैंड कौन मारेगा बाजी आज होगा फैसला, कीवियों को हल्के में नहीं ले सकेंगे कंगारू       

T20 World Cup Final
     

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

दो चिरप्रतिद्वंद्वियों भारत और पाकिस्तान के मुकाबले के साथ T20 World Cup 2021 की शुरुआत हुई थी, और आज इसका समापन भी दो चिरप्रतिद्वंद्वियों आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच खिताबी भिंड़त के साथ हो रहा है। दोनों ही टीमें कड़े और बड़े मुकाबले जीतकर फाइनल में पहुंची हैं, इसलिए यह कह पाना कठिन होगा कि कौन बाजी मारेगा। न्यूजीलैंड ने अपना सेमीफाइनल इंगलैंड को हराकर जीता है। इंगलैंड को इस टूर्नामेंट में सबसे फेवरेट टीम माना जा रहा था, लेकिन न्यूजीलैंड ने उसे पटखनी दे ही दी। ऐसा ही कुछ आस्ट्रेलिया और पाकिस्तान के बीच खेले गये दूसरे सेमीफाइनल में हुआ। आस्ट्रेलिया ने अपराजित चल रहे पाकिस्तान का गुरूर सेमीफाइनल में तोड़ा था। पाकिस्तान भी टी20 विश्वकप जीतने की प्रबल दावेदार मानी जा रही थी।

आमने-सामने

टी20 में एक दूसरे के खिलाफ मुकाबलों में आस्ट्रेलिया का ही पलड़ा भारी रहा है। आस्ट्रेलिया ने न्यूजीलैंड के मुकाबले ज्यादा T20 मैच जीते हैं। कंगारूओं ने आठ तो कीवियों ने पांच मुकाबले जीते हैं। वैसे भारत में 2016 के टी20 विश्व कप सीजन में न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया का जब आमना-सामना हुआ था उसमें कीवियों ने कंगारूओं को धूल चटाई थी।

ताकत

जहां तक ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो आस्ट्रेलिया की ताकत उसकी बल्लेबाजी है। कीवियों के खिलाफ शानदार प्रदर्शन कर चुके एरोन फिंच पर सबकी नजरें होंगी। एरॉन फिंच ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 मैचों में सबसे ज्यादा 251 रन बनाए हैं। लेकिन आस्ट्रेलिया टीम के ट्रम्फ कार्ड डेविड वार्नर साबित हो सकते हैं। फॉर्म की समस्या से उबरने के बाद उनका बल्ला टी20 विश्वकप में खूब बोल रहा है। डेविड वार्नर 156.43 के स्ट्राइक रेट से सात पारियों में 158 रन बना चुके हैं। वहीं, ऑस्ट्रेलिया का हरफनमौला खिलाड़ी ग्लेन मैक्सवेल ने नौ पारियों में 157.25 स्ट्राइक रेट से 206 रन बनाकर अच्छे फॉर्म में चल रहे हैं।

किवी टीम से मार्टिन गुप्टिल ऑस्ट्रेलिया टीम को चुनौती दे सकते हैं। डेरिल मिचेल ओपनर की भी भूमिका में खूब जमे हैं। वह इस समय टूर्नामेंट में न्‍यूजीलैंड के सर्वश्रेष्‍ठ रन स्‍कोरर हैं और अपने प्रदर्शन से उन्‍होंने काफी प्रभावित किया है। मिचेल की कोशिश ऑस्‍ट्रेलियाई गेंदबाजों की नाक में दम करने की होगी। कप्तान केन विलियम्सन हर परिस्थिति में खुद को ढालने की क्षमता रखते हैं। वह भी आस्ट्रेलिया के लिए खतरा साबित हो सकते हैं। कीवी टीम को विकेटकीपर और मध्यक्रम के बल्लेबाज डेवोन कॉनवे की कमी खलेगी, जो चोट के कारण फाइनल से बाहर हो गए हैं। कॉनवे भारत के खिलाफ शृंखला में भी उपलब्ध नहीं रहेंगे।

जहां तक गेंदबाजी की बात है,  आस्ट्रेलिया के एश्टन एगर कीवियों के खिलाफ शानदार प्रदर्शन करते रहे हैं। मिचेल स्टार्क, पैट कमिंस और जोश हेजलवुड टी20 में कीवियों के खिलाफ पहली बार खेलेंगे। न्यूजीलैंड के लिए ईश सोढ़ी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हुए मुकाबले में सबसे ज्यादा 16 विकेट हासिल की है। वहीं, ट्रेंट बोल्ट ने उनके खिलाफ 10 विकेट, जबकि सेंटनर और टिम साउदी ने नौ-नौ विकेट लिए हैं।

कुल मिलाकर न्यूजीलैंड के खिलाफ आस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी ही नजर आता है। फिर भी पिछला रिकॉर्ड चाहे जो हो, लेकिन केन विलियम्सन की ब्लैककैप टीम को हल्के में लेना ऑस्ट्रेलिया के लिए बड़ी गलती साबित हो सकती है।

यह भी पढ़ें: सीएम हेमंत और कोयला मंत्री के बीच कोल परियोजनाओं और रैयतों के मुआवजे पर विचार-विमर्श

Related posts

IPL 2021: धौनी के अनुभव के सामने होगा पंत का युवा जोश, पहला क्वालीफायर मैच कल

Pramod Kumar

Kerala Rainfall: केरल में भारी बारिश का कहर जारी, CM ने लोगों से सावधनियां बरतने को कहा

Manoj Singh

Assam: शॉर्ट्स पहन परीक्षा देने पहुंची थी लड़की, पर्दा लपेटा तब मिली परीक्षा में बैठने की इजाजत

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.