समाचार प्लस
Breaking खेल देश

T20: India vs New Zealand मैच ने बढ़ाया रांची का तापमान, बाजार में भी आयी है गर्मी

SPORTS: रांची में आज शाम 7.00 बजे से भारत और न्यूजीलैंड (India vs New Zealand) का T20 मैच खेला जायेगा। मैच को लेकर रांची में क्रिकेट फैंस के बीच उत्साह देखा जा रहा है। जाहिर है इस उत्साह का असर रांची के बाजार पर भी पड़ेगा। विशेष कर तीन घंटे चलने वाले मैच के कारण कारोबार अपने चरम पर होगा। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस छोटे फॉर्मेट वाले मैच के चलते 80 करोड़ रुपये या उससे कहीं ज्यादा का कारोबार रांची शहर में हो जायेगा।

खाने-पीने पर फैंस का रहेगा विशेष ध्यान

माहौल हर्ष और उल्लास का है तो तय है कि इस दौरान फैंस खाने-पीने पर ज्यादा ध्यान देंगे। ऐसे में कैटरिंग वालों की चांदी हो जायेगी। क्रिकेट फैंस मैच से एक दिन पहले से ही रांची आना शुरू हो गये हैं। मैच से पहले और मैच के दौरान खाने-पीने के लिए बाजार पर ही उन्हें निर्भर रहना तो इसका लाभ बाजार को मिलेगा ही। भले ही यह लाभ अस्थायी हो।

होटल कारोबार सबसे ज्यादा लाल

सबसे बड़ा लाभ तो होटल इंडस्ट्री को हुआ है। मैच देखने के लिए दूसरे जगहों से भी लोग रांची आये हैं और होटलों में आश्रय लिया है। यानी होटल वालों की चांदी हो गयी है। खबरों के अनुसार ज्यादातर होटलों के कमरे पहले ही बुक हो गये थे। मैच देखने के लिए झारखंड और झारखंड से बाहर के करीब 5000 लोग आये हैं और इन्होंने करीब 2000 कमरे भी बुक कर लिए थे। होटलों में ठहरने वालों के लिए क्रिकेट फैंस के लिए एक निराशा यह रही कि डिमांड को देखकर होटल वालों ने रूम्स के किरायों में अच्छी-खासी वृद्धि कर दी।

टूर एंड ट्रेवल्स भी फायदे में

बाहर से आने वाले क्रिकेट फैंस ही नहीं, स्थानीय क्रिकेट फैंस को मैच देखने लिए अपने वेहिकल के साथ किराये के वेहिकल पर भी निर्भर रहना पड़ेगा। ऐसे में भाड़े की गाड़ी चलाने वालों और एजेंसियों को भी कुछ फायदा होने वाला है। जेसीसीए स्टेडियम वैसे भी शहर से दूर है। वहां तक पहुंचने के लिए कोई प्राइवेट ट्रांसपोर्ट की सुविधा भी नहीं है। इसलिए निजी और भाड़े के वाहनों पर फैंस की निर्भरता रहेगी। खर्च अपनी जगह है। जब आनन्द लेने की बात है तो खर्च तो करना ही होगा। फिलहाल सबसे बड़ी बात यही है कि आज रांची शहर में बहुत दिनों बाद कोई अंतरराष्ट्रीय मैच हो रहा है। अभी बस क्रिकेट फैंस सिर्फ उसी के बारे में सोच रहे हैं।

यह भी पढ़ें: कृषि कानून वापस लेने पर टिकैत का PM मोदी पर तंज, कहा- कानून वापस लेकर कौन सा बड़ा दिल दिखा दिया

 

Related posts

जातीय जनगणना की मांग को लेकर CM सोरेन ने गृहमंत्री अमित शाह को सौंपा सर्वदलीय ज्ञापन

Manoj Singh

Silli: आजसू कार्यालय में तमाड़ विधानसभा क्षेत्र के सैकड़ों लोगों ने ली आजसू की सदस्यता

Pramod Kumar

68 साल बाद टाटा समूह में एयर इंडिया की ‘घर वापसी’, टाटा संस ने लगायी सबसे बड़ी बोली

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.