समाचार प्लस
Breaking खेल देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

विराट कोहली की RCB से जुड़े रांची के सुशांत मिश्रा, दिग्गज क्रिकेटरों को करेंगे गेंदबाजी

विराट कोहली की RCB से जुड़े रांची के सुशांत मिश्रा

रांची के बायें हाथ के तेज गेंदबाज सुशांत मिश्रा को U-19 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन करने का इनाम मिल गया है। IPL 2021 का अभी समापन नहीं हुआ  है। कोरोना महामारी के कारण बीच में ही रोक दिये गये IPL 2021 के शेष मैच 19 सितम्बर से UAE में खेले जाने हैं। इन शेष बचे मैचों के दौरान सुशांत मिश्रा टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली की टीम RCB का हिस्सा होंगे। सुशांत मिश्रा विराट कोहली के नेतृत्व वाली आरसीबी के 40 सदस्यीय दल के साथ रवाना होने वाले हैं।

नेट गेंदबाज के रूप में सुशांत मिश्रा का चयन

सुशांत मिश्रा का चयन RCB ने नेट गेंदबाज के रूप में किया है। सुशांत भले ही मैच नहीं खेलेंगे, लेकिन दुनिया के दिग्गज क्रिकेटरों के साथ ड्रेसिंग रूम शेयर करना उनके लिए बहुत बड़ी बात होगी। आरसीबी की टीम 21 अगस्त को आईपीएल टूर्नामेंट के लिए रवाना होगी। आरसीबी ने टीम में सुशांत मिश्रा के साथ चार अन्य गेंदबाजों को भी इस टीम में नेट गेंदबाज के रूप में शामिल किया है। सुशांत के साथ-साथ टीम में लेग स्पिनर प्रवीण दुबे, विदर्भ के तेज गेंदबाज आदित्य ठाकरे, बाएं हाथ के तेज गेंदबाज सौराष्ट्र के चेतन सकारिया और हरियाणा के अमन कुमार को सरप्राइज पैकेज के रूप में शामिल किया गया है।

U-19 विश्व कप में किया था शानदार प्रदर्शन

हाल में सम्पन्न U-19 विश्व कप के लिए सुशांत मिश्रा का चयन भारतीय टीम में किया गया था। भारतीय टीम मुकाबले के फाइनल में पहुंची थी। हालांकि भारतीय टीम आस्ट्रेलिया से फाइनल मुकाबला नहीं जीत सकी थी। लेकिन पूरे टूर्नामेंट में सुशांत मिश्रा ने अपनी गेंदबाजी से क्रिकेट प्रशंसकों ही नहीं, चयनकर्ताओं को भी प्रभावित किया था। सुशांत मैच से पहले अभ्यास सत्र में विराट कोहली समेत आरसीबी के दिग्गजों को गेंदबाजी कर अभ्यास कराएंगे।

उभरता हुआ रांची का एक और सितारा है सुशांत मिश्रा

भारतीय टीम के कप्तान रह चुके रांची के महेन्द्र सिंह धौनी ने क्रिकेट पर वर्षों तक राज किया है। इस खिलाड़ी से पहले और बाद में रांची का कोई भी खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय मुकाम हासिल नहीं कर सका। महेन्द्र सिंह धौनी ने हालांकि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास ले लिया है, लेकिन IPL से वह अब भी जुड़े हुए हैं और CKS के कप्तान हैं। यह सही है कि नेट गेंदबाज रहने के कारण सुशांत मिश्रा क्रिकेट यह प्रदर्शन दुनिया के लिए कोई मायने नहीं रखता। न ही इस पर चयनकर्ताओं की नजर होगी, लेकिन विश्व के दिग्गज क्रिकेटरों के सामने गेंदबाजी करने और ड्रेसिंग रूम शेयर करना उनके बहुत काम आने वाला है।

ईशान किशन को किया था परेशान

हाल के दिनों में रांची के जेएससीए अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में जेपीएल के खेले गये मैचों में सुशांत मिश्रा और टीम इंडिया का हिस्सा बन चुके झारखंड के ईशान किशन ने भी हिस्सा लिया था। सुशांत ने ईशान किशन को गेंदबाजी की थी। इस दौरान उन्होंने ईशान को परेशान भी किया था। जो यह बताता है कि बायें हाथ के यह युवा तेज गेंदबाज कितना प्रतिभावान है।

रेलवे में करते हैं नौकरी

सुशांत मिश्रा को U-19 विश्व कप क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन का इनाम रेलवे ने दिया है। सुशांत मिश्रा इस समय दक्षिण-पूर्व रेलवे से जुड़ चुके हैं। ज्ञात होगा भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धौनी ने भी अपने करियर की शुरुआत रेलवे के टीसी के रूप में की थी। रांची में अपनी पढ़ाई, क्रिकेट और करियर बनाने वाले सुशांत का सम्बंध बिहार के दरभंगा जिले के तुमौल से है। सुशांत रांची के एक बिजनेसमैन समीर मिश्रा के बेटे हैं। सुशांत की पढ़ाई डीएवी पुन्दाग से हुई है।

सुशांत के क्रिकेटर बनने में पिता का है अहम योगदान

हर मध्यम वर्गीय परिवार की तरह सुशांत मिश्रा के परिवार के समक्ष यह समस्या थी कि वह पढ़ाई और खेल में किसको प्राथमिकता दें। घर के बाकी सदस्य चाहते थे कि सुशांत पढ़ाई पर ध्यान दे, लेकिन पिता समीर मिश्रा की इच्छा थी कि उनका बेटा क्रिकेट खेले। उन्होंने बचपन से उसके खेल को पहचान लिया था। सुशांत की मां भी यही चाहती थीं कि उनका बेटा क्रिकेट छोड़ पढ़ाई पर ही ज्यादा ध्यान दे। सुशांत के पिता ने न सिर्फ अपनी पत्नी ममता मिश्रा को इसके लिए राजी किया, बल्कि घर के बाकी सदस्यों को भी मनाया। यहीं से सुशांत मिश्रा के क्रिकेट करियर की शुरुआत हुई थी।

यह भी पढ़ें: कोमोलिका बारी को विश्व चैंपियनशिप का खिताब, दीपिका के बाद अंडर 18 व 21 का स्वर्ण जीतने वाली दूसरी तीरंदाज बनीं

Related posts

1 अक्टूबर से लागू हो सकता है नया वेज कोड, सैलरी घटेगी, काम के घंटे और छुट्टियां बढ़ेंगे

Pramod Kumar

‘हम अन्न सैनिक हैं, आतंकवादी नहीं…’, दुर्गा पंडाल में भी छाया किसान आंदोलन

Manoj Singh

Parliament में हंगामा : लोकतंत्र की तस्वीर को तार- तार करने से बाज नहीं आते माननीय, जनता की भावनाओं और देश के पैसे से होता है खिलवाड़

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.