समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड धनबाद फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Dhanbad के Judge की मौत मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: लिया संज्ञान, मुख्य सचिव और डीजीपी से रिपोर्ट तलब

Dhanbad Judge

झारखंड के धनबाद में अतिरिक्त जिला न्यायाधीश (एडीजे) उत्तम आनन्द की कथित हत्या के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को स्वत: संज्ञान लिया है। सीजेआई एनवी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ ने स्वत: संज्ञान लेते हुए झारखंड के मुख्य सचिव और डीजीपी से रिपोर्ट मांगी है। इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने अगले हफ्ते राज्य के महाधिवक्ता को भी सुनवाई के दौरान अदलात में मौजूद रहने का निर्देश दिया है। सुप्रीम कोर्ट लगातार इस मामले की जांच की निगरानी करता रहेगा, यह भी पीठ ने बताया।

विधि समुदाय पर हो रहे हमलों का भी लिया संज्ञान

सीजेआई एनवी रमना की अध्यक्षता वाली पीठ ने अदालत के अंदर और बाहर न्यायिक अधिकारियों और वकीलों पर हुए कतिपय कथित हमलों पर भी चिंता जाहिर की है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि देश में न्यायिक अधिकारियों की सुरक्षा सुनिश्चित करना जरूरी है। कोर्ट ने देश भर में न्यायिक अधिकारियों और विधि समुदाय के लोगों पर हमलों पर संज्ञान लेते हुए सभी राज्यों को नोटिस जारी किया है।

गौरतलब है कि धनबाद के रणधीर वर्मा चौक के पास 28 जुलाई को एडीजे उत्तम आनंद को ऑटो ने टक्कर मारी थी। जिसके उनकी मौत हो गयी थी। जज उत्तम आनंद उस समय मॉर्निंग वॉक कर रहे थे। घटना स्थल से जो सीसीटीवी फुटेज प्राप्त हुआ है, उसमें एक ऑटो द्वारा जिस प्रकार उन्हें टक्कर मारी गयी थी, वह संदेह उत्पन्न होता है कि कहीं यह हत्या का मामला तो नहीं है।

वरिष्ठ अधिवक्ता विकास सिंह ने सुप्रीम कोर्ट को दी जानकारी

सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता विकास सिंह ने धनबाद जज की कथित हत्या का मामला शीर्ष न्यायालय के संज्ञान में रखा। इसके साथ ही अधिवक्ता विकास सिंह ने पीठ के सामने सीसीटीवी फुटेज भी प्रस्तुत किया और कहा था कि इस मामले को सीबीआई को सौंपना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : ‘सुशासन’ को अपराधियों ने दी खुली चुनौती, दिनदहाड़े Mayor पर बरसाईं ताबड़तोड़ गोलियां

Related posts

Radhe Shyam ने दूसरे ही दिन पार किया 100 करोड़ का जादुई आंकड़ा, Box Office पर छाए प्रभास

Manoj Singh

Bangladesh: होली के दिन इस्कॉन मंदिर पर 200 से ज्यादा लोगों ने किया हमला, कई जख्मी

Manoj Singh

Jharkhand: सोलर पावर प्लांट के माध्यम से रोशन हो रहे दुर्गम गांव, 246 गांवों में पहुंची बिजली

Pramod Kumar