समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर बिहार

सहारा प्रमुख सुब्रत राय को राहत, सुप्रीम कोर्ट ने पटना HC के गिरफ्तारी वारंट पर लगाई रोक

Subrata Roy

निवेशकों का पैसा न लौटाने के मामले में सहारा प्रमुख सुब्रत राय (Subrata roy) को सुप्रीम कोर्ट(Supreme court) से राहत मिली है. SC ने पटना हाईकोर्ट के गिरफ्तारी वारंट पर रोक लगाई थी.पटना HC ने आज ही सहारा प्रमुख को गिरफ्तार कर 16 मई को पेश करने के आदेश जारी किए थे. मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सभी कानूनी कार्यवाहियों पर भी अगले आदेशों तक रोक लगा दी है. इससे पहले, निवेशकों को रुपए नहीं लौटाने के मामले में सहारा प्रमुख सुब्रत राय को हाईकोर्ट से बड़ा झटका लगा था अदालत ने पेशी से छूट के अंतरिम आवेदन को खारिज कर दिया गया था. गुरुवार को सुनवाई करते हुए जस्टिस संदीप कुमार ने कहा था कि शुक्रवार सुबह 10:30 बजे सहारा इंडिया के मालिक सुब्रत राय को हाजिर होना होगा. कल अगर वह पेश नहीं आए तो फिर हाईकोर्ट गिरफ्तारी का वारंट जारी करेगा.

हाईकोर्ट में फिजिकली पेश होने का आदेश दिया गया था

सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट पटना (patna high court) ने कड़ी टिप्पणी भी की थी. दरअसल, पिछली सुनवाई के दौरान सुब्रत राय को 12 मई को पटना हाईकोर्ट में फिजिकली पेश होने का आदेश दिया गया था. मगर, सुब्रत राय गुरुवार को नहीं आए, उनकी तरफ से वकील ने अंतरिम आवेदन जमा किया.आवेदन के जरिए सुब्रत राय ने हाईकोर्ट से एक अपील की थी.उन्होंने कहा, ‘मेरी उम्र 74 साल हो चुकी है.जनवरी महीने में ऑपरेशन कराया था. अभी भी बीमार हूं. इस कारण फिजिकल तौर पर पेश होने से राहत दी जाए. वर्चुअल तरीके से कोर्ट में पेश होने की अनुमति दी जाए.

“रुपए लौटाने के लिए है डिटेल प्लान तैयार”

आवेदन के जरिए सहारा के मालिक ने यह भी कहा कि निवेशकों के रुपए लौटाने के लिए उनके पास डिटेल प्लान तैयार है. तत्काल में वो 5 करोड़ रुपए जमा करने को भी तैयार हैं.साथ ही इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट के पास भी एक याचिका दायर की गई है.पटना हाईकोर्ट ने सुब्रत राय के वकील से कहा कि सुप्रीम कोर्ट के नाम पर आप डरा नहीं सकते हैं. सवालिया लहजे में हाईकोर्ट ने कहा कि कौन हैं ये सुब्रत राय सहारा जो कोर्ट नहीं आ सकते हैं? इन्हें कोर्ट आना होगा, ये देखना होगा कि लोग यहां कैसे परेशान हैं? जबकि 27 अप्रैल से पहले हुई सुनवाई के दौरान पटना हाईकोर्ट ने सहारा समूह से यह जानकारी देने का निर्देश दिया था कि सहारा इंडिया कंपनी के अलग-अलग स्कीमों में जनता की गाढ़ी कमाई का पैसा जो निवेशकों द्वारा निवेश किया गया है.उसे किस तरह कंपनी जल्द से जल्द लौटाएगी. कई सालों से कंपनी में पैसा फंसे होने की वजह से निवेशक परेशान हैं.
ये भी पढ़ें : D-कंपनी पर NIA की बड़ी कार्रवाई,अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा शकील का जीजा आरिफ अरेस्ट

Related posts

‘सिंहासन खाली करो जनता आती है’ का नारा देने वाले लोकनायक जयप्रकाश की जयंती आज

Pramod Kumar

APJ Abdul Kalam – Birth Anniversary: ‘Welder of People’ के 11 सिद्धान्तों में नित आगे बढ़ने की प्रेरणा

Pramod Kumar

भाजपा अनुसूचित मोर्चा की दो दिवसीय कार्यसमिति बैठक शुरू, हेमंत सरकार को बताया जनविरोधी

Pramod Kumar