समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर स्वास्थ्य

Sleeping Problem: नींद की प्रॉब्लम दूर करने के लिए Lifestyle में करें ये बदलाव, जरूर मिलेगा फ़ायदा

Sleeping Problem

Sleeping Problem: नींद की कमी व्यक्ति के लिए गंभीर शारीरिक और मनोवैज्ञानिक समस्याएं पैदा कर सकती है। हमारे कई महत्वपूर्ण अंगों का काम नींद से जुड़ा हुआ है। जिसकी कमी से कई घातक बीमारियों की संभावना बढ़ सकती हैं। तो अगर आप इस समस्या से जूझ रहे हैं तो कुछ उपायों को आजमा कर देखें इसे दूर करने के लिए।

तनाव और चिंता से दूर रहें

काम के दबाव और समय सीमा के कारण पेशेवर जीवन कभी-कभी बहुत तनाव और चिंता का कारण बन सकता है। काम के मौजूदा तनाव के साथ, कोविड के कारण वर्क फ्रॉम होम की मौजूदा परिस्थिति भी इस स्थिति को बढ़ा सकती है। दिन के अंत में लंबे समय तक काम करने के कारण बहुत से लोग तनाव महसूस करते हैं और उन्हें आसानी से सोने में परेशानी हो सकती है। एक रात की कम नींद के साथ समस्या यह है कि अक्सर यह हमारे अगले दिन को बाधित कर देता है इसलिए जरूरी है कि सोने से पहले दिमाग को शांत करने की कोशिश करें।

Sleeping Problem
Sleeping Problem

स्लीप स्पेस से डिजिटल डिवाइस हटाएं

हम में से अधिकांश लोगों को किसी भी डिजिटल डिवाइस जैसे मोबाइल, लैपटॉप का उपयोग करने की आदत हो गई है जब तक कि हम सो नहीं जाते। सोशल मीडिया टेक्स्टिंग, लगातार स्क्रॉल करना एक बहुत ही हानिकारक पैटर्न है और नींद की गुणवत्ता को बाधित कर सकता है। सोने में ये उपकरण बहुत बड़े बाधक साबित हो रहे हैं। रात में फोन चेक करने की यह आदत न सिर्फ दिमाग को उत्तेजित और पूरी तरह से जगाए रखती है बल्कि इससे आंखों को भी नुकसान हो सकता है। डिजिटल स्क्रीन प्रकाश का उत्सर्जन करती है जिससे दृष्टि कमजोर हो सकती है और आंखों पर दबाव पड़ सकता है। मोबाइल फोन को दूर रखें और इसके बजाय एक किताब उठाएं यदि वास्तव में कुछ करने की ज़रूरत है तो जल्द सो जाने में मदद मिलेगी।

योग स्वस्थ जीवन का आनंद लेने के लिए एक अद्भुत उपाय है। योग में कई तकनीकें हैं जिन्हें अपने जीवन में लागू कर सकते हैं जैसे आसन नामक शारीरिक मुद्राएं; प्राणायाम जो सांस लेने की तकनीक, ध्यान अभ्यास, मुद्रा जप और बहुत कुछ है। योग के अभ्यास से अपनी ऊर्जाओं को संतुलित करने में सक्षम होंगे और भावनाओं को बेहतर ढंग से नियंत्रित करने की क्षमता पाएंगे। शारीरिक मुद्राओं का अभ्यास करना भी ऊर्जा को प्रवाहित करने का एक अच्छा तरीका है और शरीर और दिमाग को संतुलित स्थिति में रखने में मदद करता है। दंडासन, वज्रासन, सुखासन, बालासन और आनंदासन जैसे आसन कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: मुंबई में आलिशान बंगले, करोड़ों की Luxuary Cars, जानिए कितनी संपत्ति के मालिक हैं Anupam Kher

Related posts

Dr. APJ Abdul Kalam: देश पुण्यतिथि पर कर रहा अपने ‘Missile Man’ को नमन, हज़ारों युवाओं के दिल में आज भी धड़कते हैं डॉ. कलाम

Sumeet Roy

IBPS Clerk Recruitment 2021: नेशनल बैंकों में क्लर्क भर्ती के लिए आवेदन का एक और मौका, 5858 पदों पर होगी भर्तियां

Manoj Singh

World AIDS Day 2021: 40 सालों के बाद भी क्यों नहीं बन पायी AIDS की vaccine ?

Sumeet Roy