समाचार प्लस
Breaking Uncategories झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

गुरूजी की बहू के निशाने पर अब झारखंड मुक्ति मोर्चा, Sita Soren के Tweet से JMM में मचा हड़कंप

Sita Soren

Ranchi: JMM की वरिष्ठ of विधायक और गुरुजी की पुत्रवधू सीता सोरेन (Sita Soren) ने अपने पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को बेईमान और दलाल बता कर वर्तमान राजनीतिक परिदृश्य को स्पष्ट कर दिया है। पहले सिर्फ भारतीय जनता पार्टी इस प्रदेश में भ्रष्टाचार और अराजकता के चरम पर होने की बात कहती थी। अब तो सत्ताधारी दल की विधायिका भी इस बात को स्वीकार रही है।

सीता सोरेन (Sita Soren) ने एक के बाद एक लगातार चार ट्वीट किए. अपने ट्वीट में लिखा ‘मुक्त करो मुझे शैतानों से सोए क्यूं हो अब तक, रो- रोकर कहती धरती माता, दो हर दिल पर दस्तक’ जिस जल जंगल और जमीन को बचाने के लिए झारखंड का निर्माण किया गया था वह झारखंड अब खुद को बचाने की पुकार कर रही है.

इसके बाद अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘झारखंड की धरती चीख कर यह कह रही हैं कि दलालों और बेईमानों के चंगुल से मुझे बचाया जाए. झारखंड की इसी चीख और पुकार को सुनकर शायद दुर्गा सेना का गठन किया गया है.

तीसरे ट्वीट में सीता सोरेन ने लिखा ‘माननीय केंद्रीय अध्यक्ष आदरणीय शिबू सोरेन जी (Shibu Soren), आपके और स्व. दुर्गा सोरन (Durga soren) जी के खून-पसीने से खड़ी की गई पार्टी वर्तमान में दलालों और बेईमानों के हाथों में चली गई है ऐसा प्रतीत हो रहा है. स्थिति अगर यही रही तो पार्टी कई गुटों में बटती नजर आएगी.’


चौथे ट्वीट में उन्होंने लिखा ‘दलालों और बेईमानों से पार्टी को बचाना अब सिर्फ आपके हाथों में है. जिस उम्मीद और आशा के साथ पार्टी की नींव रखी गई थी उसे सुरक्षित रखने की जिम्मेदारी सिर्फ आपके हाथों में और किसी में नहीं. पार्टी तोड़ने की कोशिश करने वालों पर कड़ी कार्रवाई आप करें न की कोई और’

 

इसे भी पढ़ें: Jharkhand हुआ Unlock: रविवार को अब नहीं होगी बंदी, दीपावली और छठ को लेकर भी मिली छूट

Related posts

लड़कों के साथ-साथ लड़कियों को भी लुभा रहीं तंबाकू कंपनियां : बन्ना गुप्ता

Manoj Singh

SBI के ग्राहकों के लिए 1 दिसंबर से ट्रांजैक्शन होगा महंगा, जानिए कितने बढ़े चार्ज

Manoj Singh

Bhagalpur: 6 नकाबपोश अपराधियों ने कॉपरेटिव बैंक में डाला डाका, 29 लाख लूटकर हुए फरार

Pramod Kumar

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.