समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Sidhu Moose Wala Death: मूसेवाला के पिता का दावा- ‘सिद्धू को फिरौती के लिए धमकियां दे रहा था लॉरेंस बिश्नोई गैंग’

image source : social media

Sidhu Moose Wala Death: पंजाबी सिंगर सिद्धू सिंगर मूसेवाला के पिता के बयान से हत्याकांड का यह मामला नया मोड़ लेता दिख रहा है। हत्या को लेकर अब सवाल यह उठ रहा  है कि क्या फिरौती की रकम ना देने की वजह से उनकी हत्या हुई है? मर्डर के बाद लिखी गई FIR में उनके पिता का बयान है, जिसमें मामले से जुड़े कई खुलासे हुए हैं।

“लॉरेंस बिश्नोई की गैंग काफी समय से धमकियां दे रहा था”

मूसेवाला के पिता बलकौर सिंह का कहना है कि उनके बेटे को गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई की गैंग काफी समय से धमकियां दे रहा था और फिरौती मांगी जा रही थी। मूसावाला को कई बार फिरौती के लिए धमकी भरे फोन आए थे। उन्होंने बताया, “धमकियों की वजह से ही परिवार ने बुलेटप्रूफ फॉर्चूनर कार खरीदी थी। लेकिन रविवार को उनका बेटा घर से अपने दो दोस्तों के साथ थार कार से कहीं निकला था। बुलेटप्रूफ कार और गनमैन दोनों को ही वह घर पर छोड़ कर गए थे।”

पिता बोले-  गाड़ी कर रही थी पीछा 

बलकौर सिंह ने कहा, “मैं उसके (सिद्धू) पीछे-पीछे उसके सरकारी गनमैन को लेकर दूसरी गाड़ी से गया था। रास्ते में मैंने एक  गाड़ी को मेरे बेटे की थार का पीछे करते देखा। उसमें चार लोग सवार थे। मेरे बेटे की थार जब जवाहरके गांव के  बाहरी रास्ता के पास पहुंची तो वहां एक सफेद रंग की बोलेरो गाड़ी पहले से खड़ी इंतजार कर रही थी। उसमें भी चार लोग बैठे हुए थे।”

‘चारों बदमाशों ने उस पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी…’

सिद्धू के पिता ने बताया कि जैसे ही मेरे बेटे की थार उस बोलेरो गाड़ी के सामने पहुंची तो चारों बदमाशों ने उस पर अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। कुछ देर तक गोलीबारी चलती रही और फिर बदमाश बुलेरो व कोरोला गाड़ी लेकर फरार हो गए। जैसे ही मैं मौके पर पहुंचा तो शोर मचाना शुरू कर दिया। मैंने आसपास के लोगों को बुलाया और फिर बेटे व दोनों दोस्तों को हॉस्पिटल लेकर गया।

हत्या गिरोहों के बीच आपसी रंजिश का परिणाम लग रही है- पुलिस

वहीं, पंजाब के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) का कहना है कि मूसेवाला की हत्या गिरोहों के बीच आपसी रंजिश  का परिणाम लग रही है और लॉरेंस बिश्नोई गिरोह इसमें शामिल है। पुलिस महानिदेशक ने कहा कि रविवार शाम को हुई इस हत्या की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया जाएगा। राज्य पुलिस के प्रमुख ने कहा, “यह घटना गिरोहों के बीच आपसी दुश्मनी का नतीजा लगती है।

ये भी पढ़ें : UIDAI ने Aadhaar के मिसयूज पर चेताया,”फोटोकॉपी नही ‘मास्क्ड आधार’ का करें इस्तेमाल”

Related posts

JAC 10th 12th Result 2021: 31 जुलाई तक घोषित होंगे झारखण्ड बोर्ड मैट्रिक और इंटर के परिणाम

Manoj Singh

Omicron Variant Symptoms: कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वेरिएंट के इन लक्षणों को ना करें Ignore

Sumeet Roy

Teddy Day 2022: अपने वैलेंटाइन को आज टेडी बियर गिफ्ट करने का दिन, जान लें किस रंग के टेडी का क्या होता है मतलब

Manoj Singh