समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर हजारीबाग

हजारीबाग : Escort Service देने के नाम पर करते थे ब्लैकमेल, दो गिरफ्तार

हजारीबाग : Escort Service देने के नाम पर करते थे ब्लैकमेल,

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

झारखंड के हजारीबाग की पुलिस ने फर्जी कॉल कर एस्कॉर्ट सर्विस देने के नाम पर पैसे वसूलने के आरोप में दो को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक दोनों ने अपना अपराध भी कबूल किया है. अब साइबर अपराधियों ने ठगी के लिए एक नई तरकीब इजाद की है जिसे Sextortion नाम दिया गया है. झारखंड के हजारीबाग की पुलिस ने फर्जी कॉल कर एस्कॉर्ट सर्विस देने के नाम पर पैसे वसूलने के आरोप में दो को गिरफ्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक दोनों ने अपना अपराध भी कबूल किया है. हजारीबाग पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि कोर्रा थाना क्षेत्र के लाखे में कुछ लड़के एकत्र होकर साइबर क्राइम अंजाम देने की फिराक में हैं. लाखे स्थित दयानंद देवचंद रविदास के घर में कुछ लड़के साइबर क्राइम को घटना को अंजाम देने के फिराक में थे.

फर्जी सिम खरीद  नंबर वेबसाइट पर अपलोड कर देते हैं

सूचना के आधार पर हजारीबाग पुलिस ने छापेमारी कर सूरज कुमार और हेमंत कुमार को पकड़ लिया और दोनों को जेल भेज दिया है. पुलिस के मुताबिक ठगी के ये आरोपी आउटलुक पर अकाउंट बनाकर दूसरे की आईडी से फर्जी सिम खरीद कर उसका नंबर इस वेबसाइट पर अपलोड कर देते थे. एस्कॉर्ट सर्विस के नाम पर लोगों से ठगी करने वालों ने पूछताछ में अपराध कबूल किया है. आरोपियों ने ये भी कहा कि जो कस्टमर उन्हें पैसा नहीं देते, उनका अश्लील वीडियो बनाकर ब्लैकमेल किया जाता है. पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इनके पास से एक लैपटॉप, नौ मोबाइल और 13 एटीएम कार्ड बरामद किए गए हैं. हजारीबाग पुलिस के मुताबिक ये SKOTA वेबसाइट बनाकर एस्कॉर्ट सर्विस उपलब्ध कराने की बात कहते थे.

क्‍या है एस्‍कॉर्ट सर्विस साइट्स

एस्कॉर्ट्स सर्विस साइट्स चलाने वाली ये कंपनियां आमतौर यौन सेवाएंं देने का काम करती हैं। ये एजेंसियां सोशल नेटवर्किंग के जरिए अपने ग्राहक को उनकी मनपसंद एस्‍कॉर्ट से मिलवाती हैं। इस तरह की साइट्स पर एस्कॉर्ट्स की बुकिंग की जाती है।

सेक्सटॉर्शन क्या है

ऑनलाइन वीडियो चैट करने के बाद सेक्स वीडियो बनाकर यूजर्स को ब्लैकमेल करना और फिर उनसे पैसे की डिमांड करना, सेक्सटॉर्शन को आम भाषा में इस तरह से समझ सकते हैं। साल 2021 में दिल्ली, राजस्थान, मध्य प्रदेश, बिहार, महाराष्ट्र जैसे राज्यों में इस तरह के साइबर केस सामने आए हैं। इसे ऑनलाइन सेक्स स्कैम भी कह सकते हैं।

दरअसल, सेक्सटॉर्शन एक तरह का अपराध है. जिसमें अपराधी फर्जी फोन कॉल के जरिए युवकों को अपना मोहरा बनाते हैं और रंगदारी वसूलते हैं. रंगदारी नहीं देने पर उन्हें स्क्रीनशॉट भेज कर ब्लैकमेल किया जाता है.

झारखंड में हर सप्ताह 7 से 10 सेक्सटॉर्शन के मामले सामने आ रहे हैं. पीड़ित शर्मिंदगी की वजह से पुलिस के पास जाना भी नहीं चाहते. फेसबुक एकाउंट क्लोनिंग और दूसरे OTP ज़रिये पैसे उगाही करने के बाद साइबर फ्रॉड अब डेटा का जुगाड़ कर लोगों को एस्कॉर्ट सर्विस और दूसरे तरीकों से भी जाल में फंसा कर उगाही करने के नए नए तरीके ईजाद कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें :पहली बार सुप्रीम कोर्ट के नौ जजों ने ली एक साथ शपथ, 3 महिला जज भी शामिल

 

Related posts

Covid-19: गिरावट के बाद कोरोना मामले फिर 40 हजार के पार, 460 लोगों की मौत

Pramod Kumar

तीनों नये कृषि कानून वापस: पीएम ने मांगी क्षमा, कहा- कृषि कानूनों को मैं समझा नहीं सका

Pramod Kumar

Babul Supriyo का राजनीति से संन्यास का एलान, Facebook पर लिखी ‘मन की बात’

Sumeet Roy

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.