समाचार प्लस
झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

रांची के DSPMU में उत्कृष्ट भारत विषय पर सेमिनार का आयोजन, शिक्षा, कृषि और रोजगार पर हुई विशेष चर्चा

रांची से अनजानी कुमार की रिपोर्ट 

Ranchi: बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ जैसी योजनाओं ने उत्कृष्ट भारत के निर्माण में महती भूमिका का निर्वहन किया है। Dr तपन कुमार शांडिल्य। आज दिनांक 19 दिसंबर को dr श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय, रांची के एमबीए विभाग में उत्कृष्ट भारत विषय पर सेमिनार का आयोजन किया गया। इस सेमिनार में उपरोक्त विषय पर व्याख्यान के लिए किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, लखनऊ के प्रोफेसर ओ पी सिंह और पाटलिपुत्र यूनिवर्सिटी, पटना के अर्थशास्त्र के प्रो अनिल कुमार ठाकुर मौजूद थे।

इसके अलावा ग्लोबल लीडर्स फाउंडेशन के चेयरमैन रमेश त्रिपाठी ने भी अपना वक्तव्य दिया। सेमिनार की अध्यक्षता करते हुए Dr. श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय के कुलपति dr तपन कुमार शांडिल्य ने आजादी के बाद से अबतक के श्रेष्ठता की ओर भारत के बढ़ते कदम पर चर्चा की। उन्होंने इस संदर्भ में शिक्षा, विशेष तौर पर महिलाओं की, कृषि और रोजगार को उत्कृष्ट भारत या नए भारत की संकल्पना के तौर पर मानक माना।

उन्होंने कहा कि वर्तमान में नई शिक्षा नीति इस बदलते भारत का संकेत है। उन्होंने कहा कि सर्व शिक्षा अभियान और बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ जैसी सरकारी योजनाओं से महिलाओं की शिक्षा में काफी प्रगति हुई है, जो उत्कृष्ट या बदलते भारत के लिए एक शुभ संकेत है। उन्होंने अपने उदबोधन में उत्कृष्ट भारत के लिए शिक्षा, कृषि और रोजगार को दिशा में देश के उत्तरोत्तर प्रगति पर बल देने की बात कही। उन्होंने अर्थशास्त्री होने के नाते कृषि की दिशा में संसाधनों की उपलब्धता और इसके द्वारा देश की अर्थव्यवस्था में उत्तरोत्तर प्रगति की संभावना पर बल दिया जो एक श्रेष्ठ भारत की ओर एक कदम रहेगा। इस अवसर पर प्रो अनिल ठाकुर ने आगामी तीन दिवसीय इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन में उपरोक्त मुद्दों पर चर्चा की बात कही।

ग्लोबल लीडर्स फाउंडेशन के चेयरमैन रमेश त्रिपाठी ने बदलते भारत पर अपना व्याख्यान दिया। इसके बाद सेमिनार के दूसरे सत्र में विशिष्ट योगदान के लिए विश्वविद्यालय के कुलपति dr तपन कुमार शांडिल्य के द्वारा dr जयदीप सान्याल, सरिता पांडे, dr रजनीश प्रकाश सिंह, dr कुमारी लक्ष्मी सिंह, प्रो ओ, पी सिंह आदि को सम्मानित किया गया। इस मौके पर एमबीए विभाग के निदेशक dr अशोक कुमार नाग, शिक्षक प्रियंका मिश्रा, dr मदनजीत सिंह, विकास शर्मा, श्रेया प्रदीप और उद्भव टोप्पो की मौजूदगी रही। यह जानकारी पीआरओ प्रो राजेश कुमार सिंह ने दी।

इसे भी पढें: Jharkhand: मीडिया ही तय करे भाजपा का सदन में किया गया आचरण : सीएम हेमंत सोरेन

Related posts

JAC 10th, 12th Result 2022: झारखंड एकेडमिक काउंसिल 10वीं, 12वीं के नतीजे घोषित, यहां देखें अपना परिणाम

Manoj Singh

अक्षय कुमार की मां अरुणा भाटिया का निधन, पिछले कई दिनों से चल रही थीं बीमार

Manoj Singh

Jharkhand: राज्यपाल ने श्री जगदीशप्रसाद झाबरमल टिबड़ेवाला विश्वविद्यालय, झुंझुनू के विशेष दीक्षांत समारोह में बांटी डी. लिट उपाधियां

Pramod Kumar