समाचार प्लस
Breaking खेल टोक्यो ओलंपिक(Tokyo Olympic)

Tokyo Olympic 2020 : बॉक्सर Satish Kumar पहुंचे मेडल करीब, चोट के बावजूद दमदार प्रदर्शन

Satish Kumar

Tokyo Olympic 2020 : टोक्यो ओलम्पिक में गुरुवार को पुरुष मुक्केबाजी के सुपर हैवीवेट वर्ग में भारत के Satish Kumar ने क्वार्टरफाइनल में जगह बना लिया है। मुकाबले के दौरान उनकी आंख पर चोट लग गयी थी, इसके बावजूद उनकी हिम्मत काबिले तारीफ थी। चोट के बावजूद Satish Kumar ने जमैका के रिकाड्रो ब्रोउन को धूल चटाते हुए अंतिम आठ में जगह बना ली। अब सतीश ओलंपिक पदक से एक कदम दूर हैं।

सतीश ने राउंड ऑफ 16 का पहला राउंड 10-9 से अपने नाम किया। इसके बाद के दोनों राउंट में 10-10 अंक हासिल करते हुए प्रतिद्वन्द्वी पर हावी हो गये। आखिर में सतीश ने 4-1 के स्पिलिट डिसिजन से मैच अपने नाम कर लिया। ने पहले राउंड में पूरा दम दिखाया। उन्होंने सभी जजों से एकतरफा 10 अंक हासिल किए, जबकि दूसरे राउंड में एक को छोड़कर चार जजों ने उन्हें पूरे 10 अंक दिए। तीसरे राउंड में भी यही हुआ और आखिर में सतीश ने 4-1 के स्पिलिट डिसिजन से मैच अपने नाम कर लिया।

रविवार को मुकाबला उज्बेकिस्तान के जालोलोव बाखोदिर से

अब क्वार्टरफाइनल में सतीश कुमार का अगला मुकाबला रविवार को उज्बेकिस्तान के जालोलोव बाखोदिर से होगा। जालोलोव इस कैटेगरी के इस समय टॉप सीड हैं। भारत ने मुक्केबाज हेवीवेट कैटेगरी में ओलंपिक पहली बार कोई प्रतिद्वन्द्वी को उतरा है। सतीश का अब तक का जैसा प्रदर्शन रहा है, उससे मेडल की उम्मीद बनी है।

यूपी के बुलंदशहर के रहने वाले हैं सतीश
उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर (Bulandshahr) के रहने वाले सतीश सेना में हैं. सतीश पहले कबड्डी खेलते थे. सेना के कोचों ने उनकी अच्छी कद-काठी को देखकर उन्हें मुक्केबाजी खेलने का मौका दिया.

ये पहली बार है जब भारत का कोई मुक्केबाज हेवीवेट कैटेगरी में ओलिंपिक की स्पर्धा में भारत का प्रतिनिधित्व कर रहा है. और अपने पहले ही मैच में ओलिंपिक की रिंग में जिस तरह से सतीश कुमार लड़े, उसे देखकर मेडल की उम्मीद जाग उठी है.

भारत के लिए आज का दिन शानदार
टोक्यो ओलंपिक का आज 7 वां दिन है. भारत के लिए आज का दिन शानदार रहा है. उसे तीरंदाजी, हॉकी, बैडमिंटन और बॉक्सिंग में जीत मिली है. सतीश कुमार की इस जीत के साथ ही बॉक्सिंग में भारत की मेडल जीतने की उम्मीद बढ़ गई है. आज महिला बॉक्सिंग में भारत को अपनी स्टार बॉक्सर एमसी मैरीकॉम से भी जीत की उम्मीद होगी.

इसे भी पढ़ें : Tokyo Olympic : Dipika Kumari आगे बढ़ीं, क्वार्टर फाइनल में पहुंचीं, पीछे रह गये प्रवीण जाधव और रणदीप राय

 

 

Related posts

Congress Foundation Day: सोनिया गांधी फहरा रही थीं झंडा, हुआ ये हाल

Manoj Singh

Jharkhand: बाबूलाल ने नितिन गडकरी से मिलकर जैन, बौद्ध और शैव तीर्थस्थलों को राष्ट्रीय राजमार्ग से जोड़ने का किया आग्रह

Pramod Kumar