समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Saryu Roy ने मेनहर्ट घोटाले को लेकर झारखंड HC में दाखिल की रिट याचिका, “आरोप सिद्ध होने पर भी सरकार नहीं कर रही कार्रवाई”

image source : social media

झारखंड के पूर्व मंत्री और जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय(Saryu Roy) ने हाईकोर्ट में क्रिमिनल रिट (Criminal Writ) दाखिल कर पूरे मामले की जांच करवाने की मांग अदालत से की है. सरयू राय ने अपनी याचिका में कई दस्तावेज भी संलग्न किये हैं. याचिका में ACB को पार्टी बनाया गया है. यह जानकारी साझा करते हुए सरयू राय ने ट्वीट किया है. अपने ट्विवटर वाल पर उन्होंने लिखा है कि “मेनहर्ट घोटाला की जांच में आरोप सिद्ध हो जाने, मुख्य अभियुक्त सहित कई अभियुक्तों के जवाबी बयान आ जाने के बावजूद सरकार द्वारा आगे की कार्रवाई नहीं करने के विरुद्ध उन्होंने झारखंड उच्च न्यायालय में रिट याचिका दायर की है. याचिका पर सुनवाई की प्रतीक्षा है”

क्या है मैनहर्ट घोटाला ?

सरयू राय का आरोप है कि मैनहर्ट की नियुक्ति में नगर विकास मंत्री रहते हुए रघुवर दास ने गड़बड़ी की थी. एसीबी को 18 बिंदुओं पर जांच के लिए सरयू राय ने आवेदन दिया था. आवेदन में बताया गया था कि 2005 में मैनहर्ट को परामर्शी बनाने का अनुचित आदेश दिया गया. मैनहर्ट को लाभ पहुंचाने के लिए टेंडर की शर्तों में बदलाव किया गया. आरोप यह भी है कि काम सिंगापुर की असली मैनहर्ट को नहीं देकर भारत में इसी नाम से बनाई संस्था को दिया गया था.

“धरातल पर कोई काम नहीं हुआ”

सरयू राय ने कहा था कि रांची में सीवरेज-ड्रेनेज सिस्टम के लिए सिंगापुर की कंपनी मैनहर्ट को कंसल्टेंट नियुक्त किया गया था. इस पर करीब 21 करोड़ रुपये खर्च हुए लेकिन धरातल पर कोई काम नहीं हुआ. उस समय से अब तक रांची में सीवरेज-ड्रेनेज का निर्माण नहीं हुआ. सरयू राय ने नगर निगम और मैनहर्ट के बीच समझौते को भी अनुचित बताया था.

ये भी पढ़ें : India Independence day 2022: इस साल कौन सा स्वतंत्रता दिवस होगा? 75वां या 76वां, ऐसे समझिये

Related posts

Pooja Sighal और CA Suman Kumar की बढ़ी न्यायिक हिरासत की अवधि, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से हुई थी सुनवाई

Sumeet Roy

रिम्स अस्पताल के 18 जूनियर और सीनियर मेडिकल स्टूडेंट किए गए निष्कासित

Manoj Singh

गुमला पुलिस की बड़ी कामयाबी, PLFI एरिया कमांडर जिबनुस आइन्द गिरफ्तार

Manoj Singh