समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर हजारीबाग

Rupesh Murder Case: बरही के रूपेश हत्याकांड की जांच CBI करेगी, झारखंड हाईकोर्ट ने दिया आदेश

image source : social media

Rupesh Murder Case:  झारखंड (Jharkhand) के हजारीबाग जिला स्थित बरही  (Hazaribagh, Barhi) के रूपेश हत्याकांड(Rupesh murder case) की जांच अब सीबीआई(CBI)करेगी। जस्टिस एस के द्विवेदी की अदालत ने मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि मामले की जांच सीबीआई द्वारा की जायेगी। हाईकोर्ट (Jharkhand high court) ने रुपेश की मां की याचिका पर यह फैसला दिया है। इसी साल 6 फरवरी को सरस्वती पूजा विसर्जन के दौरान रूपेश की हत्या कर दी गई थी। रुपेश की मां उर्मिला पांडेय ने सीबीआई जांच के लिए याचिका दायर करते हुए हजारीबाग पुलिस पर जांच सही तरीके से नहीं करने का आरोप लगाया था। उनका कहना था कि पुलिस घटना के आरोपियों को बचा रही है।

सरस्वती पूजा के विसर्जन जुलूस के दौरान पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी

हजारीबाग के बरही में इसी साल 6 फरवरी को सरस्वती पूजा के विसर्जन जुलूस के दौरान रुपेश पांडेय (18 वर्ष) की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। इसके विरोध में राज्य भर में प्रदर्शन हुए थे। सरकार ने एहतियात के तौर पर 4 जिलों में इंटरनेट कनेक्शन बंद कर दिया था। मामले की जांच करने बाल संरक्षण आयोग की टीम भी आई थी। रूपेश की मां ने सरकार से अपने बेटे की हत्या की जांच सीबीआई से कराने की मांग की थी।

परिवार वाले पुलिस पर आरोपियों को बचाने का लगाते रहे हैं आरोप 

रूपेश का परिवार अब तक की पुलिस कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है। रूपेश की मां ने आरोप लगाया है कि पुलिस आरोपियों को बचा रही है। हाई कोर्ट ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद केस को सीबीआई को सौंप दिया है।

ये भी पढ़ें: झारखंड में सियासी ऊहापोह के बीच राज्यपाल Ramesh Bais दिल्ली हुए रवाना, चर्चाओं का बाजार गर्म

 

Related posts

Good Samaritan :’FIR’ फेम कविता कौशिक ने कटवाए अपने लंबे बाल, इस नेक काम के लिए करेंगी Donate

Manoj Singh

Jharkhand: हजारों आदिवासियों का 30 वर्षों का संघर्ष होगा समाप्त, नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज का अवधि विस्तार नहीं

Pramod Kumar

गर्व का 50वां पर्व: 1971 के युद्ध में भारत ने पाकिस्तान को तोड़कर छोड़ा, कराया विश्व का सबसे बड़ा आत्मसमर्पण

Pramod Kumar