समाचार प्लस
Breaking अपराध झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

Rupa Tirkey Case: न्यायिक जांच आयोग की रिपोर्ट से खुलासा, रूपा तिर्की ने की थी खुदकुशी

Rupa Tirkey Case

रिटायर्ड जस्टिस वीके गुप्ता की एक सदस्यीय जांच आयोग को दारोगा रूपा तिर्की प्रकरण (Rupa Tirkey Case) में हत्या का कोई सबूत नहीं मिला. रिपोर्ट में रूपा तिर्की द्वारा फांसी लगाने की घटना को मानसिक तनाव का कारण माना गया है. आयोग की यह रिपोर्ट गुरुवार को संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने सदन के पटल पर रखी.

दोनों ही परिवार अंतरजातीय शादी के विरोध में थे

रिपोर्ट में गवाहों के बयान सहित अन्य सबूतों के आधार पर कहा गया है कि रूपा व दारोगा शिव कुमार कनौजिया के बीच प्रेम संबंध था. रूपा उससेे शादी करना चाहती थी. शादी को लेकर ही दोनों में अक्सर विवाद होता था. हालांकि दोनों का परिवार शादी के लिए सहमत नहीं था. इस वजह से रूपा तनाव में रहती थी. दोनों ही परिवार अंतरजातीय शादी के विरोध में थे.

मामले की जांचसीबीआइ  कर रही है

रूपा व शिव के बीच हुई बातचीत व मैसेज को सुनील नामक एक गवाह ने पुलिस को सौंपा. तीन मई की सुबह 3.19 मिनट व 3.59 मिनट पर दोनों के बीच मैसेज का आदान प्रदान हुआ था. इस मैसेज से रूपा की निराशा का पता चलता है. तीन मई को रूपा का फंदे से लटकता शव मिला था. साहिबगंज पुलिस ने शिव को गिरफ्तार किया था. जांच के दौरान रूपा के माता-पिता ने आयोग के समक्ष अपना पक्ष नहीं रखा था. हाइकोर्ट के आदेश पर फिलहाल मामले की सीबीआइ जांच कर रही है.

क्या है मामला

रूपा तिर्की की तीन मई को संदिग्ध परिस्थिति में मौत हुई थी. उनका शव साहिबगंज स्थित उनके सरकारी क्वार्टर में फंदे से लटकता मिला था. इस मामले में पहले यूडी केस दर्ज हुआ था. बाद में साहिबगंज के बोरियो थाने में नौ मई 2021 को आरोपित दारोगा शिव कुमार कनौजिया पर खुदकुशी के लिए प्रेरित करने की धारा में प्राथमिकी दर्ज की गई थी.

ये भी पढ़ें : Petrol-Diesel Price: फिर भड़की पेट्रोल-डीजल की कीमत, ऐसे चेक करें अपने शहर के दाम

 

Related posts

Bhojpur: आरा में 6 हेरोइन तस्कर चढ़े पुलिस के हत्थे, यूपी तक करते थे नशे का कारोबार

Pramod Kumar

MS Dhoni बने रजनीकांत स्टाइल में ड्राइवर, IPL सुपर ओवर के लिए बीच सड़क पर बस रोकी

Manoj Singh

मोदी सरकार ने GST के 44,000 करोड़ रुपए की बकाया राशि निर्गत की, Jharkhand/ Bihar को भी मिला फायदा

Sumeet Roy