समाचार प्लस
Breaking अपराध चतरा झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

रिश्तों का कत्ल : बहू के साथ गलत नहीं कर सका, तो चचेरे पोते और अपनी बेटी को मार डाला

रिश्तों का कत्ल : बहू के साथ गलत नहीं कर सका, तो चचेरे पोते और अपनी बेटी को मार डाला

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड -बिहार
हंटरगंज (चतरा) : अय्याशी जब परवान चढ़ी, तो एक शख्स ने हैवानियत की हद लांघ दी। उसने चचेरे पोते और सगी बेटी को मार डाला तथा शव को क्रमश: कुएं और अपने घर में छिपा दिया। पुलिस ने शवों को बरामद कर आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है।

मामला वशिष्ठनगर थाने के लेढ़ो गांव का है। गोविंद भुइयां नामक व्यक्ति का 4 वर्षीय पुत्र सूरज पांच दिन पूर्व अचानक लापता हो गया। परिजनों और गांव वालों ने काफी खोजबीन की, मगर कुछ भी पता नहीं चला। मंगलवार को गांव के एक छोर पर स्थित कुएं से काफी दुर्गंध फैलने लगी। इस पर गांव वालों को शक हुआ। कुएं में कांटा डाल कर तलाशी ली गई तो प्लास्टिक के बोरे में बंद लापता बच्चे का शव मिला। शव पर निर्ममता पूर्वक पीटे जाने और गला घोंटे जाने के निशान थे। तत्काल पुलिस को इसकी सूचना दी गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए चतरा भेज दिया।

मृतक का चचेरा दादा हिरासत में

परिजनों के शक के आधार पर पुलिस ने गोविंद भुइयां के चाचा (मृतक का चचेरा दादा) जीतन भुइयां को हिरासत में ले लिया। उसने पुलिस के समक्ष स्वीकार कर लिया कि रंजिश के कारण वारदात को अंजाम दिया है। उसका कहना था कि सूरज ने उसकी बेटी को पीटा था, इसलिए उसकी हत्या कर दी और शव कुएं में डाल दिया।

बेटी को मार कर गोविंद को फंसाना और खुद को बचाना चाह रहा था

इसी बीच पता चला कि आरोपित जीतन की एक दो साल की बेटी भी गायब है। जब पुलिस ने फिर उससे कड़ाई से पूछताछ की तो उसकी भी हत्या कर देने की बात उसने कबूली। उसकी निशानदेही पर उसके ही घर से पुलिस ने बच्ची की लाश बरामद कर ली और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। हालांकि उसने पुलिस के समक्ष कबूल किया कि वह बेटी को मार कर गोविंद को फंसाना और खुद को बचाना चाह रहा था।

बुरे अंजाम भुगतने की दी थी धमकी 

इधर, जब मामले की छानबीन के लिए यह संवाददाता संबंधित गांव में पहुंचा तो मानवता को शर्मसार और पवित्र रिश्ते को तार-तार करने वाले तथ्य सामने आए। मृतक सूरज की मां मालो देवी ने बताया कि आरोपित उस पर बुरी नजर रखता था। कई बार उसे अकेली पाकर घर में घुस गया था। मगर विरोध के कारण वह अपने मंसूबे में सफल नहीं हो पाया था। इससे वह बौखलाया हुआ था। उसने बात नहीं मानने पर बुरे अंजाम भुगतने की धमकी दी थी।

अपनी एक बेटी पर भी कुदृष्टि रखता था आरोपी 

आरोपित अपनी एक बेटी पर भी कुदृष्टि रखता था। विरोध करने पर उसकी कई बार पिटाई की गई थी। पिता की प्रताड़ना से आजिज आकर वह गोविंद (चचेरे भाई) के घर में उसकी पत्नी कालो के साथ रहने लगी थी। जीतन उससे भी खार खार खाए हुए था। मालो का दावा है कि इसी के कारण जीवन ने वारदात को अंजाम दिया है।

रंजिश में वारदात को अंजाम दिया

इधर, थानेदार सुनील कुमार सिंह ने बताया कि मामले की छानबीन की जा रही है। प्रथम दृष्टया आरोपित सनकी और मानसिक रूप से असंतुलित लगता है। उसने रंजिश में वारदात को अंजाम दिया है। आरोपित को फिलहाल जेल भेज दिया गया है।

ये भी पढ़ें : Coal Crisis in India: क्यों आया भारत में कोयले का इतना बड़ा संकट? क्या Blackout का है डर?

Related posts

65वीं BPSC टॉपर गौरव सिंह लौटे गांव : बैंड-बाजे के साथ हुआ भव्य स्वागत, मां-बहन ने उतारी आरती

Manoj Singh

Gujarat: ‘टीम भूपेंद्र’ तैयार, 24 नये मंत्रियों ने ली शपथ, पिछले मंत्रियों को नहीं मिली जगह

Pramod Kumar

झारखंड के साहिबगंज में बाढ़ जैसे हालात, कई घर डूबे, राज्य में भारी बारिश का Alert

Sumeet Roy

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.