समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर व्यापार

RBI ने 2 साल बाद बढ़ाया 40 बेस‍िस प्‍वाइंट रेपो रेट, अब होम-ऑटो सहित सभी लोन हो जाएंगे महंगे

RBI Governor Shaktikanta Das

भारतीय र‍िजर्व बैंक के गर्वनर शक्‍त‍िकांत दास (RBI Governor Shaktikanta Das) ने बुधवार को रेपो रेट बढ़ाने का ऐलान कर द‍िया. आरबीआई गवर्नर ने रेपो रेट में 0.40% की बढ़ोतरी की है. इसके साथ ही रेपो रेट 4 प्रत‍िशत से बढ़कर 4.40% हो गया। इससे पहले आरबीआई ने आख‍िरी बार 22 मई 2020 को रेपो रेट में बदलाव किया था.

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास ने अपने संबोधन में कहा, ग्लोबल इकोनॉमी की स्थिति बिगड़ती जा रही है. अर्थव्‍यवस्‍था पर महंगाई का दबाव बरकरार है. लगातार बढ़ती महंगाई चिंताजनक है. युद्ध की वजह से महंगाई और ग्रोथ का अनुमान बदला है.

क्‍या होगा असर?

आरबीआई की तरफ रेपो रेट बढ़ाने का असर बैंकों के करोड़ों ग्राहकों पर पड़ेगा. केंद्रीय बैंक की तरफ से रेपो रेट बढ़ाने से बैंक ग्राहकों को द‍िया जाना वाला कर्ज महंगा कर देंगे. ब्‍याज दर बढ़ने का असर ईएमआई पर होगा. ग्राहकों की पहले के मुकाबले ईएमआई बढ़ जाएगी. इससे अब होम-ऑटो सहित सभी लोन महंगे हो जाएंगे.

क्‍या होता है रेपो रेट?

जिस रेट पर आरबीआई की तरफ से बैंकों को लोन द‍िया जाता है, उसे रेपो रेट कहा जाता है. रेपो रेट बढ़ने का मतलब है क‍ि बैंकों को आरबीआई से महंगे रेट पर कर्ज मिलेगा. इससे होम लोन, कार लोन और पर्सनल लोन आद‍ि की ब्‍याज दर बढ़ जाएगी, ज‍िससे आपकी ईएमआई पर सीधा असर पड़ेगा.

ये भी पढ़ें : Airtel के इस Prepaid Plan की धूम! ज्यादा डेटा और OTT बेनिफिट्स… इस प्लान में हैं ढेरों फायदे

 

Related posts

ओलंपिक में भारत की जीत की चर्चा पड़ोस में भी, चीन ने कसा तंज तो पाकिस्तान में तारीफ

Pramod Kumar

जूनियर भारतीय पुरुष हॉकी राष्ट्रीय कैंप में झारखंड से तीन खिलाड़ी चयनित, बेंगलुरू कैंप में लेंगे हिस्सा

Sumeet Roy

राज्यपाल रमेश बैस ने किया नेतरहाट आवासीय विद्यालय का भ्रमण, बोले-‘नेशन फर्स्ट’ की भावना जागृत करें छात्र

Manoj Singh