समाचार प्लस
Breaking खेल झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Ranji Trophy: झारखंड ने बनाया चौथा विशाल स्कोर, शाहबाज नदीम और राहुल शुक्ला ने लूट ली महफिल

Ranji Trophy: Jharkhand's huge score, Nadeem and Rahul Shukla robbed the gathering

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

शाहबाज नदीम और राहुल शुक्ला की दसवें विकेट की बड़ी साझेदारी से झारखंड ने रणजी ट्रॉफी में न सिर्फ अपना रिकॉर्ड विशाल स्कोर बनाया बल्कि रणजी ट्रॉफी के इतिहास का चौथा सबसे बड़ा स्कोर बना डाला है। झारखंड के बल्लेबाजों ने नगालैंड के खिलाफ रणजी ट्रॉफी प्री-क्वार्टर फाइनल में सोमवार को कोलकाता के ईडन गार्डन में खेले जा रहे मैच में यह इतिहास बनाया है। मध्यक्रम के बल्लेबाजों और पुछल्ले बल्लेबाजों के दमदार प्रदर्शन के बल पर झारखंड ने प्लेट ग्रुप टॉपर नगालैंड के खिलाफ पांच दिवसीय मुकाबले में तीसरे दिन 800 रन का आंकड़ा पार किया है।

झारखंड की इस विशाल पारी में 17 वर्षीय विकेटकीपर कुमार कुशाग्र के 266 और विराट सिंह के शतक (107) का बड़ा योगदान है। अनुभवी अनुकूल रॉय और कुमार सूरज ने भी अर्धशतक का योगदान किया। लेकिन पारी का सबसे बड़ा कमाल स्पिनर शाहबाज नदीम और तेज गेंदबाज राहुल शुक्ला की दसवें विकेट की 191 रनों की साझेदारी रही जिस कारण झारखंड इतना बड़ा स्कोर बनाने का कामयाब हो सका।

नदीम ने 177 रनों की विशाल पारी खेली और आखिरी बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। नदीम ने अपना दूसरा प्रथम श्रेणी शतक बनाया है। झारखंड का स्कोर जब 689 रन था तब नदीम और राहुल शुक्ला आखिरी जोड़ी के रूप में विकेट पर थी। दूसरे दिन का खेल जब समाप्त हुआ तब झारखंड का स्कोर स्कोर 769/9 था। इस जोड़ी ने सोमवार को इससे आगे खेलना शुरू किया और आज के पहले सत्र में नगालैंड के असहाय आक्रमण का जमकर फायदा उठाया और स्कोर को 880 रनों तक पहुंचा दिया। झारखंड की पहली पारी 880 रनों पर समाप्त हुई, लेकिन तब तक नदीम और शुक्ला झारखंड के स्कोर में आखिरी विकेट के लिए 191 रन जोड़ चुके थे। नदीम 177 रन पर बनाकर आउट हुए। राकेश शुक्ला 85 रन बनाकर नाबाद रहे।

झारखंड साल 2004-05 से रणजी ट्राफी टूर्नामेंट में हिस्सा ले रही है. इससे पहले साल 2015 में झारखंड ने हैदराबाद के खिलाफ 556 रनों का स्कोर बनाया था, जो इस टूर्नामेंट में झारखंड का सर्वोच्च स्कोर था।

रणजी ट्रॉफी में सर्वोच्च टीम योग
  • 944/6d – हैदराबाद बनाम आंध्र प्रदेश, सिकंदराबाद (1993-94)
  • 912/8d – होल्कर बनाम मैसूर, इंदौर (1945-46)
  • 912/6d – तमिलनाडु बनाम गोवा, पणजी (1988-89)
  • 880/10 – झारखंड बनाम नगालैंड, कोलकाता (2021-22)
  • 855/6d – मुंबई बनाम हैदराबाद, मुंबई (बॉम्बे, 1990/91)
  • 826/04 – महाराष्ट्र बनाम काठियावाड़, पुणे (पूना, 1940/41)
  • 826/7d – मेघालय बनाम सिक्किम, भुवनेश्वर (2018/19)

यह भी पढ़ें: झारखंड के निर्दलीय विधायक Saryu Rai अरविंद केजरीवाल से मिले, सियासी अटकलें तेज

Related posts

Omicron effect: हवाई यात्रियों को झटका! टिकट के दाम हुए दोगुने, नई गाइडलाइन लागू

Manoj Singh

T20: India vs New Zealand मैच ने बढ़ाया रांची का तापमान, बाजार में भी आयी है गर्मी

Sumeet Roy

जिसका था लोगों का काफी समय से इंतजार, Priyanka ने अब दिखाई उसकी पहली झलक

Manoj Singh