समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Rajya Sabha: 57 सीटों पर हुए चुनाव में भाजपा नुकसान में, दो महीने में 100 से आयी 91 पर, फिर से हो सकती है 100 

Rajya Sabha: BJP in loss in 57 seats, 100 to 91 in two months

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

देश के 15 राज्यों में राज्यसभा की 57 सीटों के लिए उपचुनाव हुए। इनमें 41 उम्मीदवार निर्विरोध जीत कर राज्यसभा जा रहे हैं। लेकिन चार राज्यों में अपने अतिरिक्त उम्मीदवारों को जिताने की चाल के कारण यहां मतदान कराना पड़ा जिसमें सबसे ज्यादा 9 सीटें भाजपा ने जीतीं। कांग्रेस ने 5, शिवसेना और एनसीपी ने 1-1 सीटें जीतने में कामयाबी पायी हैं।

चार राज्यों की 16 सीटों में भाजपा ने 9 सीटें जरूर जीत ली हैं, लेकिन 15 राज्यों की हुई कुल 57 सीटों के चुनाव में उसे 4 सीटों का नुकसान उठाना पड़ा है। अप्रैल महीने में 100 का आंकड़ा छू लेने वाली भाजपा राज्यसभा में दो महीनों में 100 सीटों से घटकर 91 पर पहुंच गयी है। सेवानिवृत्त हो रहे 57 सदस्यों को मिलाकर वर्तमान में उच्च सदन के कुल 232 सदस्यों में भाजपा के 95 सदस्य हैं। इस महीने जीते उम्मीदवार जब राज्यसभा पहुंचेंगे तब भाजपा की सदस्य संख्या और घट कर 91 हो जायेगी। सेवानिवृत्त हो रहे सदस्यों में भाजपा के 26 सदस्य शामिल हैं जबकि चुनाव में उसके 22 सदस्यों ने ही जीत दर्ज की। इस प्रकार उसे चार सीटों का नुकसान हुआ है।

हालांकि भाजपा का यह आंकड़ा फिर से 100 पहुंच सकता है, लेकिन इसके लिए उसे थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा। राज्यसभा में अभी राज्यसभा में सात मनोनीत सदस्यों सहित कुल 13 रिक्तियां हैं। इस सीटों के भर जाने के बाद भाजपा फिर से 100 के आंकड़े तक पहुंच सकती है।

शुक्रवार को 4 राज्यों में हुए राज्यसभा चुनाव में राजस्थान में 4 सीटों के लिए 5 उम्मीदवार मैदान में थे, जिसमें से कांग्रेस के 3 तथा भाजपा के 1 उम्मीदवार को जीत मिली। हरियाणा में बड़ा उलटफेर हुआ है, यहां 2 सीटों में एक भाजपा के उम्मीदवार कृष्ण लाल पंवार और एक निर्दलीय कार्तिकेय शर्मा ने जीत हासिल की है। कर्नाटक में राज्यसभा की 4 सीटों के लिए 6 उम्मीदवार मैदान में थे। जिनमें से 3 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की है, जबकि कांग्रेस के खाते में 1 सीट आई है। भाजपा ने वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, अभिनेता जग्गेश और कर्नाटक के एमएलसी लहर सिंह सिरोया को अपना उम्मीदवार बनाया था। भाजपा निर्दलियों की मदद से अपने तीसरे उम्मीदवार को राज्यसभा भेजने में सफल रही। महाराष्ट्र में शिवसेना को बड़ा झटका लगा। पार्टी के दूसरे कैंडिडेट संजय पवार भाजपा के धनंजय महाडिक से हार गए। चुनाव परिणाम आने के बाद भाजपा के 3, शिवसेना, NCP और कांग्रेस को एक सीट मिली।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: माननीय सीएम! पत्थरबाजों के माथे पर चिंता आना ज्यादा जरूरी

Related posts

Pakistan: काम नहीं आया दांव-पेंच, सहयोगी MQM (P) ने छोड़ा साथ, अब कैसे कुर्सी बचायेंगे इमरान!

Pramod Kumar

Presidential Election: राष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन प्रक्रिया शुरु, EC ने जारी की अधिसूचना

Manoj Singh

Gyanvapi: तो क्या मंदिर में नमाज पढ़ते हैं मुसलमान? क्या इस्लाम देता है इसकी इजाजत?

Pramod Kumar