समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

कभी रांची DC रह चुके Rajiv Kumar, अब होंगे देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त

Rajiv Kumar

देश के नए मुख्य चुनाव आयुक्त (chief election commissioner) रांची के उपायुक्त रहे 1984 बैच के सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी राजीव कुमार (Rajiv Kumar) होंगे. वो 15 मई को कार्यभार संभालेंगे. इस बाबत अधिसूचना जारी कर दी गई है. मौजूदा मुख्य निर्वाचन आयुक्त सुनील चंद्रा 14 मई को रिटायर हो रहे हैं. राजीव कुमार 1984 बैच के आईएएस हैं. दो सितंबर 2020 को निर्वाचन आयुक्त के रूप में कार्यभार संभालने वाले राजीव कुमार 15 मई 2022 से 18 फरवरी 2025 तक इस पद पर रहेंगे. 19 फरवरी 2025 को राजीव कुमार का 65वां जन्मदिन है. संविधान के मुताबिक, निर्वाचन आयुक्तों का कार्यकाल छह साल या फिर 65 साल की उम्र तक होता है.

किरेन रिजिजू ने ट्विटर पर जानकारी दी

केंद्रीय कानून मंत्री किरेन रिजिजू ने ट्विटर पर जानकारी दी। उन्होंने कहा कि राजीव कुमार 15 मई, 2022 से मुख्य चुनाव आयुक्त होंगे। राजीव कुमार सुशील चंद्रा की जगह लेंगे। कानून मंत्री ने ट्वीट कर लिखा, “संविधान के अनुच्छेद 324 के खंड (2) के अनुसरण में, राष्ट्रपति ने राजीव कुमार को 15 मई, 2022 से मुख्य चुनाव आयुक्त के रूप में नियुक्त किया है। राजीव कुमार को मेरी शुभकामनाएं।” नियुक्ति पत्र में कहा गया है कि सुशील चंद्रा का कार्यकाल शनिवार को पूरा हो रहा है।

केंद्र के विभिन्न मंत्रालयों और बिहार/झारखंड के अपने राज्य संवर्ग में काम किया है

भारत सरकार की 36 वर्षों से अधिक की सेवा के दौरान राजीव  कुमार ने केंद्र के विभिन्न मंत्रालयों और बिहार/झारखंड के अपने राज्य संवर्ग में काम किया है. बीएससी, एलएलबी, पीजीडीएम और एमए पब्लिक पॉलिसी की शैक्षणिक डिग्री हासिल करने के बाद राजीव कुमार को सामाजिक क्षेत्र, पर्यावरण और वन, मानव संसाधन, वित्त और बैंकिंग क्षेत्र में व्यापक कार्य अनुभव है.

2015 से कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के स्थापना अधिकारी भी रहे हैं

प्रौद्योगिकी अनुप्रयोगों के उपयोग और अधिक पारदर्शिता, वितरण की दिशा में मौजूदा नीति व्यवस्था में संशोधन लाने के लिए उनकी गहरी प्रतिबद्धता है. राजीव कुमार फरवरी 2020 में वित्त सचिव, भारत सरकार के रूप में सेवानिवृत्त हुए. इसके बाद उन्हें अप्रैल 2020 से 31 अगस्त 2020 को कार्यालय छोड़ने तक अध्यक्ष सार्वजनिक उद्यम चयन बोर्ड के रूप में नियुक्त किया गया. राजीव कुमार 2015 से कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग के स्थापना अधिकारी भी रहे हैं.
ये भी पढ़ें : ताजमहल मामले में याचिकाकर्ता को HC की फटकार, पहले PhD करो फिर आना कोर्ट

 

Related posts

पेंशन बना टेंशन…कलयुगी बेटे ने पिता को छत से दिया धक्का

Sumeet Roy

Delhi Narela Fire: नरेला में प्लास्टिक फैक्टरी में लगी भीषण आग, दमकल की 22 गाड़ियां मौके पर, 24 घंटे में दूसरी घटना

Sumeet Roy

युवाओं में क्यों बढ़ रहा है हार्टअटैक का खतरा? ये पांच लक्षण हो सकते हैं संकेत, न करें नजरअंदाज

Manoj Singh