समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Kota Car Accident: चंबल नदी में गिरी बारातियों की कार, दूल्हे समेत 9 लोगों की मौत

Kota Car Accident: राजस्थान के कोटा के नयापुरा थाना क्षेत्र स्थित चंबल की छोटी पुलिया पर देर रात शादी के लिए जा रही एक कार नदी में गिर गई. इसमें दूल्हे सहित नौ लोगों की मौत हो चुकी है. प्रारंभिक जानकारी के अनुसार ये बारात चौथ का बरवाड़ा से उज्जैन जा रही थी. जो कार नदी में डूबी उसमें दूल्हा सहित 9 लोग सवार थे.

नौ की मौत की पुष्टि की जा चुकी है जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल है. इतने बड़े हादसे की सूचना मिलते ही जिला प्रशासन मौके पर पहुंच गया और रेस्क्यू टीम की सहायता से कार को बाहर निकाला गया. मौके पर भारी पुलिस एवं लोगों की भीड़ जमा हो गई है. हादसे की खबर मिलते ही आला अधिकारी, पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन मौके पर पहुंच गया है.

इधर, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने इस गंभीर हादसे पर गहरा दुख जताया है. स्पीकर बिरला ने कहा कई लोगों का असामयिक निधन हृदय विदारक है, उनके परिजनों के प्रति मेरी संवेदनाएं.

गाजियाबाद में हुआ था ऐसा ही हादसा

बता दें कि हाल ही में गाजियाबाद में भी ऐसा ही दर्दनाक हादसा हुआ था. इस हादसे में तीन युवकों की मौत हो गई. दरअसल, इंदिरापुरम थाना क्षेत्र में रात करीब 1 बजे वसुंधरा-इंदिरापुरम कनावनी पुलिया पर तेज़ रफ़्तार कार हिंडन नहर में गिर गई. मौके पर पहुंची पुलिस ने क्रेन के माध्यम से नहर से कार निकाली. हादसे में कार सवार तीन युवकों की मौत हो गई.

बताया जा रहा है कि खोड़ा के दीपक विहार इलाके के रहने वाले इन तीन युवकों की नहर में कार समेत डूबने के कारण मौत हुई. युवकों की पहचान खोड़ा निवासी ललित, देबू और सोनू के रूप में हुई है. मिली जानकारी के अनुसार, तीनों युवक कनावनी पुलिया इंदिरापुरम के पास के एंबिएंस मॉल के अंदर अपनी कार से शादी समारोह में शामिल होने आए थे.

ये भी पढ़ें – Jharkhand जगुआर के 14वें स्थापना दिवस में शामिल हुए मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, जवानों के अभियानों को सराहा

Kota Car Accident

Related posts

Mandar bypoll Result: कांग्रेस की हुई मांडर सीट, लगभग 23 हजार वोटों से जीतीं शिल्पी नेहा तिर्की

Sumeet Roy

Jharkhand: सरकार पर बरसे Deepak Prakash, कहा-कड़ाके की पड़ रही है ठंड, हेमन्त सरकार को अलाव और कंबल की चिंता नहीं

Manoj Singh

Cyclone ‘गुलाब’ से झारखंड तो बचा, मगर महाराष्ट्र-गुजरात तबाह, दोनों राज्यों पर ‘शाहीन’ का भी खतरा

Pramod Kumar