समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राजनीति

Rahul Gandhi Varun Gandhi: क्या सियासत की नई कहानी लिखेंगे दोनों गांधी भाई ? केदारनाथ में मिलना सिर्फ संयोग या पहले से सब था तय

rahul gandhi varun gandhi

Rahul Gandhi Varun Gandhi: देश की सियासत में फिर एक नई तस्वीर सजती हुई दिखाई दे रही है या यूं कहें की कुछ बड़ा होने की संभावनाएं जताई जा रही है.  दरअसल मंगलवार को  देश के पवित्र धाम केदारनाथ में राहुल गांधी और वरुण गांधी के बीच मुलाकात की हुई। इस दौरान राहुल गांधी ने काफी देर तक वरुण गांधी की बेटी अनसूया से बातचीत की। वरुण की पत्नी यामिनी का भी हालचाल लिया। हालांकि, इस दौरान दोनों ओर से कोई भी फोटो लेने से परहेज किया गया।

Image

वरुण गांधी का परिवार के साथ केदारनाथ धाम दर्शन का पहले से ही कार्यक्रम बना हुआ था। मंगलवार की सुबह वरुण, यामिनी और अनसूया दर्शन करके वहां से निकल ही रहे थे कि इसी दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी वहां पहुंचे। आमना-सामना हुआ तो राहुल और उनके चचेरे भाई वरुण के बीच बातचीत का सिलसिला भी शुरू हो गया।

राहुल गांधी ने वहां बैठकर पहले अनसूया को दुलारा। उसकी पढ़ाई-लिखाई और शौक के बारे में जाना। यह भी पूछा कि उसे गेम्स में क्या पसंद है। राहुल और वरुण का परिवार काफी खुलकर मिला। यहां तक कि राहुल ने यामिनी से भी घर-परिवार के बारे में भी पूछा। दोपहर के भोजन से पहले वरुण गांधी व उनका परिवार केदारनाथ धाम से नीचे उतर आया, जबकि राहुल गांधी पूजा के लिए वहीं रुके रहे। बताते हैं कि उन्होंने भविष्य में दुबारा मिलने के शिष्टाचारी संकल्प के साथ एक-दूसरे से विदा ली।

राजनीतिक मायने भी आये सामने

राहुल और वरुण ने जिस तरह से गर्मजोशी के साथ मुलाकात की, उसके राजनीतिक निहितार्थ भी तलाशे जाने लगे हैं। भरोसेमंद सूत्रों के मुताबिक, इस दौरान दोनों के बीच राजनीतिक बातचीत नहीं हुई। यह बातचीत सिर्फ परिवारिक हालचाल लिए तक ही केंद्रित रही। हालांकि, भविष्य में इसके किसी न किसी रूप में राजनीतिक परिणाम सामने आने से इन्कार नहीं किया जा सकता।

इसे भी पढें: इतने गंदे विचार, फिर भी देश में  बनायेंगे सरकार! पहला नहीं है उदाहरण, कांग्रेस नेता ने तो कर दी थी सीमा पार!