समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

अमृतसर में पाकिस्तान जैसी घटना, स्वर्ण मंदिर में दरबार साहब की ‘बेअदबी’ पर ‘सजा-ए-मौत’, ‘हत्याकांड’ की ‘सिर्फ निंदा’

Darbar Sahib's 'disrespect'

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

जैसा पाकिस्तान में होता है, वैसा अमृतसर में हो गया। पाकिस्तान में ईश-निंदा पर हत्या कर दिये जाने की घटनाएं आपने बहुत सुनी होंगी, अमृतसर ने साबित कर दिया, वह भी पाकिस्तान बन सकता है। हैरत की बात है कि इस घटना की सिर्फ निंदा भर की गयी। मौत का अपराधी कोई नहीं..। कपूरथला से भी ऐसी ही एक और घटना की खबर आयी है।

घटना यूं है, पवित्र गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की कोशिश करने वाले शख्स को ‘धर्म की रक्षा का बीड़ा उठायी भीड़’ ने मार डाला। इस ‘हत्याकांड’ की डीसीपी परमिंदर सिंह पुष्टि भी की है। अब इस घटना के बाद से स्वर्ण मंदिर में माहौल ठीक नहीं है। इस घटना पर पुलिस का कहना है कि रेहरास साहिब पाठ के दौरान स्वर्ण मंदिर के अंदर एक अज्ञात व्यक्ति ने रेलिंग से छलांग लगा दी और कथित तौर पर गुरु ग्रंथ साहिब जी के सामने रखी तलवार को उठाने की कोशिश की। इसके बाद भीड़ भड़क गई और युवक को पकड़ लिया। भीड़ ने युवक की तब तक पिटाई की जबकि उसकी मौत नहीं हो गयी।

घटना की सिर्फ निंदा, ‘अपराधी’ कोई नहीं

अमृतसर पुलिस के डीसीपी परमिंदर सिंह ने घटना की पुष्टि की है। इस मामले में एसजीपीसी के कार्यकारी सदस्य भाई गुरप्रीत सिंह रंधावा ने सोशल मीडिया पर कहा, ‘श्री अमृतसर साहिब में दुर्भाग्यपूर्ण घटना की निंदा करता हूं, पंजाब सरकार को तुरंत जांच करनी चाहिए।’ इस बारे में पंजाब के गृह मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने भी पुष्टि की है। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने भी बयान दिया है। उन्होंने कहा कि, ‘श्री हरिमंदिर साहिब के गर्भगृह में श्री रेहरास साहिब के पाठ के दौरान श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के प्रयास जैसे दुर्भाग्यपूर्ण और जघन्य कृत्य की निंदा करता हूं। इस मामले के जांच के आदेश दे दिए गए हैं।’

युवक ग्रिल के ऊपर से जहां कूदा था, मुख्य भवन में वहां केवल ग्रंथी को बैठने की अनुमति है। वहीं दरबार साहिब में इसी जगह पवित्र श्री गुरु ग्रंथ साहिब का प्रकाश है और संगत माथा टेकती है।

किसान आन्दोलन के वक्त निहंग सरबजीत ने की थी क्रूर हत्या

अभी हाल की ही घटना है, किसान आन्दोलन के दौरान एक निहंग ने एक शख्स की बड़ी क्रूरता से हाथ-पैर काट कर हत्या कर दी थी। आत्मसमर्पण करते वक्त हत्यारे निहंग ने इसका कारण भी बताया था। उसने कहा था कि जिसकी उसने हत्या की है उसने गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की थी। इसलिए उसने उसे मौत के घाट उतार दिया। इस हत्या का उसे कोई अफसोस नहीं है।

कपूरथला में भी धार्मिक बेअदबी के आरोपी की भीड़ ने ली जान

अमृतसर के बाद पंजाब के कपूरथला में भी धार्मिक प्रतीक की बेअदबी के कथित आरोप में एक शख्स की पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी। शख्स पर आरोप है कि उसेन सिखों के धार्मिक झंडे निशान साहिब का अपमान किया था। पुलिस मामले की जांच कर रही है और उसने आशंका जताई है कि यह सिलेंडर चोरी का भी मामला हो सकता है।

यह भी पढ़ें: CoronaVirus Third Wave Alert: National Covid-19 Supermodel Committee की बड़ी चेतावनी-भारत में तेजी से फैलेगा Omicron, फरवरी में आएगी तीसरी लहर!

Related posts

Gaya: ट्रेन की बोगी में आग लगी नहीं थी, लगायी गयी थी, गुनहगार ने बताया कैसे लगी आग

Pramod Kumar

CM हेमन्त सोरेन ने दुमका से सोना-सोबरन धोती साड़ी वितरण योजना का किया शुभारंभ, कहा-विकास हमारी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता

Manoj Singh

Narendra Modi in Varanasi LIVE: 8 महीने बाद काशी में प्रधानमंत्री, वाराणसी को 1583 करोड़ का मेगा गिफ्ट

Sumeet Roy