समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

राष्ट्रपति Draupadi Murmu ने किया मेडिटेशन, माउंट आबू में ब्रह्माबाबा की समाधि पर अर्पित की पुष्पांजलि

माउंट आबू/आबू रोड। राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu)अपने दो दिवसीय दौरे पर आबू रोड-माउंट आबू पहुंचीं। दौरे के दूसरे दिन बुधवार को माउंट आबू (mount abu) में ब्रह्माकुमारी संस्थान के ज्ञान सरोवर अकादमी में ब्रह्ममुहूर्त में सुबह 3.30 बजे उठी और करीब 4.30 बजे तक मेडिटेशन किया। राष्ट्रपति ने मेडिटेशन के बाद सुबह 7 बजे आध्यात्मिक सत्संग (मुरली क्लास) में भाग लिया, जो 7.45 बजे तक चली।

‘मुश्किलों के दौर में परमात्मा मेरी मदद करता है’

इस दौरान राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे ऐसा महसूस होता है मुश्किलों के दौर में परमात्मा मेरी मदद करता है। जीवन में उतार-चढ़ाव के दौर में परमात्मा ने कभी कमजोर महसूस नहीं पड़ने दिया। आपको जीवन में समय से पहले कुछ नहीं मिलता है। समय आने पर सब मिलता है। आज भी पहले की तरह रोज मेडिटेशन के साथ ही सुबह की शुरुआत होती है। अपने दो दिन के प्रवास के दौरान राष्ट्रपति ने ध्यान-साधना, एकांत और सात्विक भोजन को विशेष तरजीह दी।

ब्रह्मा बाबा के समाधि स्थल शांति स्तंभ पर पुष्पांजलि अर्पित की

इसके बाद राष्ट्रपति नाश्ते के बाद सुबह 10 बजे संस्थान के पांडव भवन परिसर पहुंचीं। जहां ब्रह्मा बाबा के समाधि स्थल शांति स्तंभ पर पहुँच कर पुष्पांजलि अर्पित की। साथ ही मेडिटेशन रूम, बाबा की कुटिया, बाबा के कमरे में पहुँचकर एकांत में कुछ देर शिव बाबा का ध्यान किया। हिस्ट्री हॉल में संस्थान के इतिहास को जाना। पांडव भवन में अवलोकन के बाद राष्ट्रपति वापस ज्ञान सरोवर में पौधारोपण कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। दोपहर में राष्ट्रपति वायुसेना के विशेष विमान से मानपुर हवाई पट्टी से प्रस्थान कर गईं।

कल्पतरुह अभियान के तहत देशभर में दस लाख से अधिक पौधे रोपे गए

बता दें कि इस वर्ष संस्थान की ओर से कल्पतरुह अभियान चलाया गया था। जिसके तहत देशभर में दस लाख से अधिक पौधे रोपे गए। वहीं शाम को संस्थान के वरिष्ठ भाई बहनों से मुलाकात की। इस दौरान कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय भाई ने संस्थान की सामाजिक सेवाओं के बारे में बताया। वहीं कल्पतरुह अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इनकी रही उपस्थिति 

इस मौके पर ज्ञान सरोवर की निदेशिका बीके डॉ. निर्मला दीदी, कार्यकारी सचिव बीके मृत्युंजय, ब्रह्माकुमारीज की संयुक्त मुख्य प्रशासिका बीके शशि दीदी, वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके शीलू दीदी, मीडिया निदेशक बीके करुणा भाई भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें : हैदराबाद से गढ़वा पहुंचे शूटर शफत अली, आदमखोर तेंदुए के आतंक का होगा अंत

 

Related posts

UPSC की प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण अभ्यर्थियों को एक लाख की एकमुश्त आर्थिक सहायता देगी झारखंड सरकार

Manoj Singh

रांची : स्वतंत्रता दिवस की सुबह बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल से रिहा हुए 4 बंदी

Manoj Singh

बाबुल सुप्रियो ने भाजपा का छोड़ा दामन, अभिषेक बनर्जी की मौजूदगी में टीएमसी में हुए शामिल

Manoj Singh