समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर मनोरंजन

Pradeep की उड़ान और जज्‍बे को सलाम, पूरे देश में हो रही है तारीफ

pradeep mehra social media

एक वीडियो सोशल मीडिया (pradeep mehra social media) पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो एक 19 साल का युवक रात 12 बजे नोएडा की सड़कों पर दौड़ता दिख रहा है. इस युवा की दौड़ का मकसद सेना में भर्ती होने की इच्‍छा और मां का इलाज है. लड़के का पूरा शरीर पसीने से लथपथ था लेकिन चेहरे पर युवा जोश और रौनक दिखाई दे रही थी.

फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी की पड़ी नजर 

19 साल का एक लड़का देर रात नोएडा की सड़क पर बिना किसी बात की परवाह किए दौड़ता चला जा रहा था, पसीने से लथपथ था, लेकिन चेहरे पर किसी भी तरह की शिकन नहीं थी. तभी कार से जा रहे फिल्म निर्माता विनोद कापड़ी (filmmaker Vinod Kapri) की उस पर नजर पड़ी और उन्होंने तुरंत ही उसे गाड़ी से घर छोड़ने का ऑफर दिया, लेकिन कई बार अनुरोध के बावजूद वो इसके लिए तैयार नहीं हुआ. दरअसल, 19 साल का प्रदीप मेहरा मैकडोनाल्ड कंपनी में अपनी नौकरी पूरी कर दौड़ का अभ्यास कर रहा था, क्योंकि उसका ख्वाब सेना में भर्ती होने का है. वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ ही कापड़ी ने उससे पूछा तो उसने बताया कि वो घर जाकर अपने और बड़े भाई के लिए खाना बनाएगा. उत्तराखंड का रहने वाला प्रदीप अपने बड़े भाई के साथ नोएडा में रहता है. उसकी मां अस्पताल में भर्ती है.

बताई दौड़ कर जाने की वजह 

प्रदीप का वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट होने के बाद ही वायरल हो गया. प्रदीप ने उन्हें बताया कि वो कंपनी में नौकरी के बाद घर दौड़ते हुए जाता है, क्योंकि उसके पास रनिंग प्रैक्टिस के लिए और वक्त नहीं मिल पाता. दौड़ की वजह उसने सेना में भर्ती होने का अपना सपना बताया. कापड़ी ने फिर उसे कार में बैठने की पेशकश की और सुबह जल्दी उठकर दौड़ने की बात कही, लेकिन उसने बड़ी विनम्रता से इसे ठुकरा दिया. उत्तराखंड (Uttarakhand) के रहने वाले प्रदीप ने कहा कि उसे सुबह आठ बजे तक उठकर अपने भाई के लिए भोजन तैयार करना होता है. वो रोजाना नोएडा सेक्टर 16 से बरौला स्थित अपने घर तक रोजाना यूं ही दस किलोमीटर की दौड़ लगाता है.

डिनर का ऑफर ठुकराया

कापड़ी ने मेहरा को बताया कि उसकी ये वीडियो क्लिप जल्द ही वायरल होने वाली है. इस पर उसने हंसते हुए कहा, मुझे कौन पहचानेगा, लेकिन अगर यह वायरल होती है तो ठीक है, मैं कुछ गलत तो नहीं कर रहा हूं. कापड़ी ने उसे साथ बैठकर डिनर का ऑफर भी दिया, लेकिन वो अपने लक्ष्य और जिम्मेदारियों को लेकर अडिग दिखा. उसने कहा कि अगर वो उनके साथ डिनर पर जाता है, तो उसका भाई भूखा रह जाएगा. उसका भाई एक कंपनी में नाइट शिफ्ट में काम करता है, लिहाजा वो अपने लिए खाना नहीं बना सकता. इस पर कापड़ी ने जवाब दिया कि प्रदीप तुम लाजवाब हो. उन्होंने प्रदीप को लिफ्ट देने के लिए एक बार फिर रिक्वेस्ट की, लेकिन वो टम से मस नहीं हुआ. उसने साफ कहा कि अगर ऐसा करेगा तो उसकी दौड़ बेकार जाएगी.

यह भी पढ़ें : 99 प्रतिशत लोगों को लग रहा है कि ये गधा है, मगर इसकी सच्चाई कुछ और है, आपको क्या लगता है…10 मिनट में बताएं

 

Related posts

US Survey in ‘Dawn’: 43% हिन्दू मानते हैं 1947 का बंटवारा हिन्दुओं-मुसलमानों के लिए सही

Pramod Kumar

Jharkhand Panchayat Election: आज से झारखंड की 1127 पंचायतों में नामांकन, 14 मई को मतदान, जानिए पूरी Detail

Sumeet Roy

स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने जमशेदपुर के कीनन स्टेडियम में 12-14 आयु वर्ग के वैक्सीनेशन कार्यक्रम का किया शुभारंभ

Sumeet Roy