समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Jharkhand में राजनीतिक संकट भारी! सरकार ने विधायकों को शिफ्ट किया छत्तीसगढ़!

Political crisis heavy in Jharkhand! Government shifted MLAs to Chhattisgarh!

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

हेमंत सोरेन की विधायकी जाने के संकट के साथ हेमंत सरकार पर भी क्या कोई संकट मंडरा रहा है? शायद ऐसी ही कुछ बात है तभी झारखंड सरकार के विधायकों को बसों में अज्ञात स्थान पर ले जाया गया है ताकि विपक्ष की मजबूत पार्टी भाजपा के द्वारा कोई खरीद-फरोख्त सरकार को अस्थिर करने का प्रयास न किया जा सके। भले ही झारखंड सरकार के आला नेता बार-बार यह दावा कर रहे थे कि उनके पास बहुमत का पूरा आंकड़ा है, उनके पास 50 विधायकों का समर्थन है, और सरकार को कोई खतरा नहीं है। लेकिन सरकार के अस्थिर हो जाने का भय कहीं न कहीं है। इसी भय का ही नतीजा है कि इन विधायकों को सुरक्षित अज्ञात स्थान पर क्यों ले जाया जा रहा है। दरअसल, जबसे झारखंड में राजनीतिक संकट चल रहा तब से यूपीए की बैठकें भी लगातार चल रही हैं, लेकिन इन बैठकों में एक के बाद एक विधायकों की संख्या घटती जा रही थी। इससे सशंकित झारखंड सरकार ने सुरक्षित उपाय निकालते हुए विधायकों को रांची से शिफ्ट कर दिया गया। इन बसों में कितने कितने विधायक गये हैं, कितने जाने को तैयार नहीं हुए हैं, इसका खुलासा नहीं हो पाया है।

छत्तीसगढ़ के रायपुर के मेफेयर होटल में ठहरेंगे विधायक!

मुख्यमंत्री आवास से दो बसों में इन विधायकों को छत्तीसगढ़ ले जाने की बात सामने आ रही है। छत्तीसगढ़ की नवा राजधानी के नाम मशहूर नवा रायपुर के आलीशान मेफेयर होटल में ठहराया जायेगा।सूचना यह भी है कि छत्तीसगढ़ में इन विधायकों को ठहरने की सारी व्यवस्था की देखरेख मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कर रहे हैं। चूंकि छत्तीसगढ़ कांग्रेस शासित राज्य है, इसलिए हेमंत सरकार के इन विधायकों के लिए सुरक्षित ठिकाना माना जा रहा है। लेकिन राजनीति की जानकारी रखने वालों को यह भी अच्छी तरह जानते होंगे कि छत्तीगढ़ में भले ही कांग्रेस की सरकार है, लेकिन यहां भाजपा भी काफी मजबूत है। झारखंड सरकार में ‘खेला’ की कोई गुंजाइश है तो यह किस लिहाज से सुरक्षित डेस्टिनेशन है, कहना मुश्किल है। इसको इस तरह से भी समझा जा सकता है, झारखंड में झामुमो-कांग्रेस-राजद की सरकार है, सरकार अपनी है, पुलिस अपनी है, प्रशासन अपना है, उसके बाद भी सरकार के विधायक इधर-उधर भागते फिर रहे हैं, छत्तीसगढ़ में अगर भाजपा ‘खेला’ करना चाहे तो क्या वहां सम्भव नहीं है?

यह भी पढ़ें: T-20: एशिया कप की शुरुआत आज, कल भारत और पाकिस्तान महामुकाबला

Related posts

Presidential Election: मतों की गणना के कुछ घंटों में ही मिल जायेंगे परिणाम

Pramod Kumar

Naxalite: स्वतंत्रता दिवस पर बड़ी साजिश रच रहे थे नक्सली, सर्चिंग पर निकले जवानों ने मंसूबों पर पानी फेरा

Sumeet Roy

Navratri: जगत के कल्याण के लिए प्रकट हुई हैं स्कंदमाता

Pramod Kumar