समाचार प्लस
Breaking देश फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

PM Modi Mann Ki Baat : पीएम मोदी ने ध्यानचंद को किया याद, कहा-41 साल बाद हॉकी में जान आई

पीएम मोदी ने ध्यानचंद को किया याद

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ‘मन की बात’ कार्यक्रम के जरिए देशवासियों को संबोधित किया। इसका 80वां संस्करण आकाशवाणी के सभी केंद्रों से प्रसारित हुआ.

पीएम मोदी ने की ‘मन की बात’ में कहा कि आज मेजर ध्यानचंद जी की जन्म जयंती है और हमारा देश उनकी स्मृति में इसे राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाता भी है.  शायद, इस समय मेजर ध्यानचंद जी की आत्मा जहां भी होगी, बहुत ही प्रसन्नता का अनुभव करती होगी क्योंकि दुनिया में भारत की हॉकी का डंका बजाने का काम ध्यानचंद जी की हॉकी ने किया था और चार दशक बाद, करीब-करीब 41 साल के बाद, भारत के नौजवानों ने, बेटे और बेटियों ने हॉकी के अंदर फिर से एक बार जान भर दी.

जब तक हॉकी में पदक नहीं मिलता, विजय का आनंद नहीं मिलता

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कितने ही पदक क्यों न मिल जाएं, लेकिन जब तक हॉकी में पदक नहीं मिलता भारत का कोई भी नागरिक विजय का आनंद नहीं ले सकता है और इस बार ओलंपिक में चार दशक के बाद हॉकी का पदक मिला मिला.

प्रधानमंत्री ने मेजर ध्यानचंद्र को श्रद्धांजलि दी

उन्होंने कहा कि आप कल्पना कर सकते हैं मेजर ध्यानचंद जी के दिल पर, उनकी आत्मा पर, वो जहां होंगे, वहां कितनी प्रसन्नता होती होगी. आज जब हमें देश के नौजवानों में हमारे बेटे-बेटियों में खेल के प्रति जो आकर्षण नजर आ रहा है, माता-पिता को भी बच्चे अगर खेल में आगे जा रहे हैं तो खुशी हो रही है, ये जो ललक दिख रही है न मैं समझता हूं यही मेजर ध्यानचंद जी को बहुत बड़ी श्रद्धांजलि है.

आज का युवा कुछ नया करना चाहता है

पीएम मोदी ने कहा कि साथियों जब खेल-कूद की बात होती है तो स्वाभाविक है हमारे सामने पूरी युवा पीढ़ी नजर आती है. और जब युवा पीढ़ी की तरफ गौर से देखते हैं कितना बड़ा बदलाव नजर आ रहा है. युवा का मन बदल चुका है. आज का युवा मन घिसे-पिटे पुराने तौर तरीकों से कुछ नया करना चाहता है, हटकर करना चाहता है. आज का युवा मन बने बनाए रास्तों पर चलना नहीं चाहता है. वो नए रास्ते बनाना चाहता है.

 ओलंपिक ने बहुत बड़ा प्रभाव पैदा किया है: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि इस बार ओलंपिक ने बहुत बड़ा प्रभाव पैदा किया है। ओलंपिक के खेल पूरे हुए, अभी पैरालंपिक चल रहा है। देश को हमारे इस खेल जगत में जो कुछ भी हुआ, विश्व की तुलना में भले कम होगा, लेकिन विश्वास भरने के लिए तो बहुत कुछ हुआ. आज युवा सिर्फ स्पोर्ट्स की तरफ देख ही रहा ऐसा नहीं है, लेकिन वह उससे जुड़ी संभावनाओं की भी ओर देख रहा है. उसके पूरे इकोसिस्टम को बहुत बारीकी से देख रहा है, उसके सामर्थ्य को समझ रहा है और किसी न किसी रूप में खुद को जोड़ना भी चाहता है. अब वो कनवेंशनल चीजों से आगे जाकर न्यू डिसिप्लीन को अपना रहा है.

संस्कृत भाषा सरस भी है, सरल भी

प्रधानमंत्री ने कहा कि हाल के दिनों में जो प्रयास हुए हैं, उनसे संस्कृत को लेकर एक नई जागरूकता आई है. अब समय है कि इस दिशा में हम अपने प्रयास और बढाएं. हमारी संस्कृत भाषा सरस भी है, सरल भी है. संस्कृत अपने विचारों, अपने साहित्य के माध्यम से ये ज्ञान विज्ञान और राष्ट्र की एकता का भी पोषण करती है, उसे मजबूत करती है. संस्कृत साहित्य में मानवता और ज्ञान का ऐसा ही दिव्य दर्शन है जो किसी को भी आकर्षित कर सकता है.

मन की बात’ कार्यक्रम में बिहार के मधुबनी जिले का जिक्र किया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज ‘मन की बात’ कार्यक्रम में बिहार के मधुबनी जिले का जिक्र किया. उन्होंने कहा कि मधुबनी जिले के डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद कृषि विश्वविद्यालय और वहां स्थानीय कृषि विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिकों ने मिलकर के एक अच्छा प्रयास किया है. इसका लाभ किसानों को तो हो ही रहा है, इससे स्वच्छ भारत मिशन को भी नई ताकत मिल रही है. विश्वविद्यालय की इस पहल का नाम ‘सुखित मॉडल’ है .

सुखित मॉडल  के  चार लाभ  सीधे-सीधे नजर आते हैं

पीएम मोदी ने ये भी बताया कि इस मॉडल का उद्देश्य है गांवों में प्रदूषण को कम करना. इस मॉडल के तहत गांव के किसानों से गोबर और घरों से निकलने वाला अन्य कचरा इकट्ठा किया जाता है. बदले में गांव वालों को रसोई गैस सिलेंडर के लिए पैसे दिए जाते हैं. जो कचरा गांव से निकलता है उससे खाद बनाने का काम भी किया जाता है. यानी ‘सुखित मॉडल’ के चार लाभ तो सीधे-सीधे नजर आते हैं.

उन्होंने कहा कि इस तरह के कदम गांव की शक्ति को कितनी ज्यादा बढ़ा सकते हैं, यही तो आत्मनिर्भरता का विषय है. उन्होंने देश की प्रत्येक पंचायत से अपील की कि ऐसा कुछ करने का वो भी अपने यहां जरूर सोचें.

ये भी पढ़ें:बदलता दिख रहा UNSC का स्टैंड, आतंकवाद को लेकर बयान से हटाया तालिबान का नाम 

Related posts

इस बार 5 अगस्त को क्या ‘धमाका’ करेंगे PM Modi, समान नागरिक कानून या कुछ और…

Pramod Kumar

Meet Dhoni’s new favourite ‘Honey‘ : नए Pet के साथ चाय-डेट पर MS Dhoni, पत्नी साक्षी धोनी ने शेयर की तस्वीरें

Manoj Singh

Viral Video: प्यासी भैंस ने हैंडपंप चलाकर मिटाई अपनी प्यास, अब बताओ – “अक्ल बड़ी या भैंस”

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.