समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

सीधी नहीं हो सकती पाकिस्तान की पूंछ, स्नेहा दुबे ने धोया तो लगा बिलबिलाने

सीधी नहीं हो सकती पाकिस्तान की पूंछ कोस रहा भारत को

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

भारत की फर्स्ट सेक्रेटरी स्नेहा दुबे के हाथों दुनिया के सामने बुरी तरह अपमानित होने के बाद पाकिस्तान मुंह छुपाने के बजाय भारत के खिलाफ अनर्लग प्रलाप करने लग गया है। अंतर्राष्ट्रीय मंच पर चोट खाया पाकिस्तान आग बबूला हो उठा है और भारत पर अपनी भड़ास निकाल रहा है। आतंकिस्तान पाकिस्तान को भारतीय यंग डिप्लोमेट ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के सामने आईना दिखाया तो अपनी ही बदसूरत तस्वीर पसंद नहीं आ रही है। भारतीय डिप्लोमेट के तीखे तेवर से पाकिस्तान इतना बौखलाया हुआ है कि उसने अब कश्मीर मुद्दे को अंतर्राष्ट्रीय मसला बताना शुरू कर दिया है। संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की डिप्लोमेट ने कश्मीर को ‘द्विपक्षीय’ नहीं, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय मामला बता दिया है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार कश्मीर मुद्दे को ‘द्विपक्षीय’ मुद्दा मानने से साफ इनकार करती है। हालांकि पूरी दुनिया कश्मीर के मुद्दे को भारत और पाकिस्तान के बीच का आपसी मुद्दा बताती है। बता दें, तालिबान ने भी कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान को झटका देते हुए कहा था कि कश्मीर मुद्दा भारत और पाकिस्तान के बीच का है। लेकिन, पाकिस्तान की टेढ़ी पूंछ है, सीधी हो तब न।

क्या कह रहा है पाकिस्तान?

संयुक्त राष्ट्र महासभा में प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को फिर से कश्मीर का मुद्दा उठाया था। जिस पर भारतीय डिप्लोमेट ने करारा जवाब दे दिया था। इसके बाद पाकिस्तान की प्रतिनिधि साइमा सलीम ने संयुक्त राष्ट्र महासभा में झूठ फैलाया कि कश्मीर भारत का अभिन्न हिस्सा नहीं है और ना ही कश्मीर का मुद्दा भारत का आंतरिक मामला है। संयुक्‍त राष्‍ट्र में पाकिस्‍तानी प्रतिनिधि साइमा सलीम दावा किया कि जम्‍मू-कश्‍मीर एक अंतरराष्‍ट्रीय मान्‍यता प्राप्‍त विवाद है और इसका अंतिम फैसला संयुक्‍त राष्‍ट्र के प्रावधानों और सुरक्षा परिषद की ओर से पारित प्रस्‍तावों के मुताबिक किया जाना चाहिए। बता दें, बलूचिस्‍तान में मानवाधिकारों का खुलकर उल्‍लंघन करने वाले पाकिस्‍तान ने आरोप लगाया कि भारत जम्‍मू-कश्‍मीर में कथित मानवाधिकार उल्‍लंघनों से लोगों का ध्‍यान भटकाना चाहता है।

संयुक्त राष्ट्र में स्नेहा दुबे ने क्या कहा था?

संयुक्त राष्ट्र में प्रथम सचिव स्नेहा दुबे ने सीधे तौर पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को निशाने पर लिया था। उन्होंने पाकिस्तान को एक ऐसा देश बताया, जो खुद को तो आतंकवाद का पीड़ित बताता है, लेकिन आतंकवाद को पालता और पोसता है। भारत की यंग डिप्लोमेट ने जिस अंदाज में पाकिस्तान को यूनाइटेड नेशंस में धोया है, उसने पूरी दुनिया का ना सिर्फ ध्यान खींचा है, बल्कि स्नेहा दुबे की पहचान पूरी दुनिया में हो गयी है।

स्नेहा दुबे ने आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान पर जिस तरह से प्रहार किया उससे पाकिस्तान के पास चेहरा छिपाना मुश्किल हो रहा है। स्नेहा दुबे ने संयुक्त राष्ट्र में कहा कि पाकिस्तान वह देश है, जिसके पिछले हिस्से में आतंकवादी रहते हैं और पाकिस्तान आतंकियों को इस उम्मीद से पालता है, कि वह पड़ोसी देशों को नुकसान पहुंचाएंगे। लेकिन  पाकिस्तान जो कर रहा है, उसका खमियाजा सिर्फ भारत को नहीं, बल्कि पूरी दुनिया को चुकाना पड़ रहा है और चुकाने पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: Daughter’s Day 2021: बेटा भाग्य से पैदा होता है और बेटियां सौभाग्य से!

Related posts

Salman Khan gets bitten by snake: सलमान खान को सांप ने काटा, देर रात अस्पताल में किया गया भर्ती, फार्म हाउस में मना रहे थे क्रिसमस

Manoj Singh

लगभग सभी हिंदू-सिखों ने छोड़ा अफगानिस्तान, दूसरे देशों में भी कर रहे भविष्य की तलाश

Pramod Kumar

‘हर नौजवान अपने पैरों पर खड़ा होगा, महिलाएं बनेंगी सशक्त और स्वावलंबी’, सीएम ने साहिबगंज के बरहेट में दी कई योजनाओं की सौगात

Sumeet Roy