समाचार प्लस
Breaking अंतरराष्ट्रीय फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

Pakistan: मुश्किल में इमरान? संकट देख देश से खिसक लिये 3 सबसे करीबी? पूर्व चीफ जस्टिस भी लापता?

Pakistan: Imran in trouble? Seeing the crisis, the 3 closest moved from the country?

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की कुर्सी खतरे में है। खतरा सिर्फ इतना नहीं है, उसके आगे भी है, क्योंकि यह पाकिस्तान है। पाकिस्तान में कुर्सी जाना मात्र एक घटना नहीं होती, जान पर भी आफत आ जाती है! कम से कम पिछले हुक्मरानों के इतिहास पर नजर दौड़ाने से यह स्पष्ट हो जाता है। एक ‘बड़ा खतरा’ सन्निकट है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि प्रधानमंत्री इमरान खान के करीबी देश से खिसकने लगे हैं। विपक्ष इमरान सरकार को हर हाल में गिराने में लगा हुआ है, इसलिए उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया है, जिस पर 28 मार्च को वोटिंग होनी है, यह भी संभव है इमरान इससे पहले ही पद छोड़ दें।

इन हलचलों के बीच इमरान खान के करीबियों के पाकिस्तान छोड़ने की खबरें भी आ रही हैं। इनमें एक हैं, इमरान खान के पूर्व एडवाइजर शहजाद अकबर, दूसरे हैं, चीफ सेक्रेटरी आजम खान और तीसरे हैं, पूर्व चीफ जस्टिस गुलजार अहमद। खबर है, ये सभी मुल्क छोड़ चुके हैं। इन सभी को भय था कि तख्तापलट होने पर भारी मुश्किलों का सामना इन्हें करना पड़ सकता है।

इमरान खान के करीबियों को किस बात का है डर?

शहजाद अकबर – इमरान खान के भ्रष्टाचार में शहजाद गहरे तक संलिप्त हैं। आंतरिक मामलों पर इमरान के सलाहकार शहजाद शरीफ परिवार को निशाने पर लेने का काम कर रहे थे। इमरान खान चाहते थे कि नवाज शरीफ और उनके परिवार को भ्रष्टाचार के मामलों में सजा दिलाई जाए। इसमें शहजाद अकबर कोई कसर नहीं छोड़ी थी।

चीफ सेक्रेटरी आजम खान – इमरान खान के सत्ता में आने के बाद आजम खान के इशारों पर ही कई बड़े जर्नलिस्ट्स को नौकरी से निकाला गया था। इनमें हामिद मीर, सलीम साफी, असद अली तूर, आलिया शाह, रिजवान रजी और आरजू काजमी जैसे पत्रकार शामिल हैं। अब ये पत्रकार सरकार की कब्र खोदने का काम कर रहे हैं। विपक्ष नेता मौलाना फजल-उर-रहमान कह चुके हैं कि आजम ने मुल्क को तबाह किया है। इसलिए माना जा रहा है कि इमरान की कुर्सी जाने के बाद आजम पर मुसीबतों का पहाड़ टूट सकता है।

पूर्व चीफ जस्टिस गुलजार अहमद – सेना के इशारों पर गुलजार अहमद इमरान खान पर हमेशा हमलावर रहे हैं। वह इमरान सरकार को गवर्नेंस के मुद्दे पर फटकार लगा चुके हैं और सरकार चलाने के तरीकों पर भी सवाल उठा चुके हैं। भले ही अहमद ने सरकार के भ्रष्टाचार से जुड़े कई मामलों पर फैसला लटकाए रखा। लेकिन एक जमीन मामले में उन्होंने सेना को नाराज कर दिया था। उन्होंने सवाल उठाया था कि सेना आर्मी को दी गयी जमीन पर मैरिज हॉल और थिएटर बनाकर पैसा क्यों कमा रही है? इस घटना के बाद सेना गुलजार अहमद से नाराज थी। इसीलिए गुलजार का परिवार जनवरी में उनके रिटायर होने के काफी पहले ही अमेरिका जा चुका था और अब उन्होंने भी मुल्क छोड़ दिया है।

यह भी पढ़ें: पुष्कर धामी ने फिर थामी उत्तराखंड की कमान, पीएम मोदी, अमित शाह, नड्डा की मौजूदगी में ली सीएम पद की शपथ

Related posts

Katrina Kaif अपने देवर के स्टाइलिश लुक से हुई इम्प्रेस, रिएक्शन से मच गया तहलका

Manoj Singh

Uttar Pradesh: दिग्गज हस्तियों की मौजूदगी में योगी आदित्यनाथ 47 मंत्रियों के साथ आज लेंगे शपथ, चर्चा में हैं ये नाम

Pramod Kumar

Chanho : वाहन चेकिंग के दौरान पुलिस ने हथियार के साथ दो को किया गिरफ्तार, कार्बाइन और गोली बरामद

Manoj Singh