समाचार प्लस
Breaking झारखण्ड फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर राँची

चुनाव के समय नामांकन पत्र में तथ्य छुपाने का आरोप, मंत्री Ramaeshwar Oraon को High Court से नोटिस

High Court

न्यूज़ डेस्क/ समाचार प्लस झारखंड- बिहार
राज्य के मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव (Ramaeshwar Oraon) को झारखंड हाईकोर्ट (High Court) ने नोटिस जारी कर छह सप्ताह में जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है। सुखदेव भगत की निर्वाचन याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस एके चौधरी की अदालत ने नोटिस दिया है।

सुखदेव भगत ने हाईकोर्ट में निर्वाचन याचिका दायर कर रामेश्वर उरांव का निर्वाचन रद्द करने की मांग की है। उनकी ओर से दायर याचिका में कहा गया है कि लोहरदगा विधानसभा चुनाव के दौरान रामेश्वर उरांव ने कई तथ्यों को छिपाया है। कई गलत जानकारी भी दी है। मतदान के दिन भी उन्होंने कई बूथों पर धांधली की और मतदाताओं को वोट डालने से रोका।

अब रामेश्वर उरांव को अदालत में जवाब देना होगा

सुखदेव भगत के द्वारा दायर की गयी इलेक्शन पीटिशन पर झारखंड हाइकोर्ट के न्यायाधीश जस्टिस एके चौधरी की अदालत में सुनवाई हुई. प्रार्थी सुखदेव भगत ने अपनी याचिका में कहा है कि लोहरदगा विधानसभा सीट से निर्वाचित होकर विधायक बने रामेश्वर उरांव ने अपने नामांकन में कई तथ्य छिपाये हैं. उन तथ्यों का हवाला देकर याचिकाकर्ता सुखदेव भगत ने लोहरदगा विधानसभा से विधायक रामेश्वर उरांव के निर्वाचन को चुनौती देते हुए उनके निर्वाचन को रद्द किये जाने की मांग की है. कोर्ट द्वारा नोटिस जारी किये जाने के बाद अब रामेश्वर उरांव को अदालत में जवाब देना होगा

ये भी पढ़ें : CBSE English Paper Controversy: सीबीएसई का बड़ा एलान, कक्षा 10वीं के विवादित पेपर के प्रश्न निरस्त, सभी छात्रों को मिलेंगे पूरे मार्क्स

Related posts

झारखंड में Floating Solar Project की संभावनाओं को लेकर केंद्रीय मंत्री से मिले भाजपा सांसद

Pramod Kumar

Shubh Deepawali: धनतेरस पर लक्ष्मी को ऐसे करें प्रसन्न, जानें पूजा-विधि और शुभ लग्न

Pramod Kumar

Independence Day: स्वतंत्रता दिवस समारोह पर हावी हुआ कोरोना, मोरहाबादी मैदान में सिर्फ1 हजार लोग ही होंगे शामिल

Sumeet Roy