समाचार प्लस
Breaking बिहार राजनीति

जातीय जनगणना पर एक हो गए नीतीश-तेजस्वी, मुख्यमंत्री पीएम मोदी को लिखेंगे पत्र

जातीय जनगणना

बिहार की राजनीति जाति के इर्द-गिर्द घूमती है और बिहार के सभी राजनीतिक दल  आरक्षण और जाति की उपेक्षा नहीं कर सकते। कुछ यही हाल जातीय जनगणना की मांग का भी है जहां सत्ता और विपक्ष एक होती नजर आ रही है।

नीतीश लिखेंगे पीएम मोदी को खत’
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जातीय जनगणना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खत लिखेंगे। लालू यादव के छोटे बेटे और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को विपक्ष के अन्य नेताओं के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इसी मुद्दे पर मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री से हुई बातचीत के बारे में जानकारी मीडिया को दी जिसमें उन्होंने ये दावा किया है।

नीतीश ने विपक्ष के स्टैंड को ध्यान से सुना- तेजस्वी
नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि नीतीश कुमार ने विपक्ष के पूरे स्टैंड को ध्यान से सुना। तेजस्वी ने कहा कि सीएम नीतीश कुमार शुक्रवार को दिल्ली जा रहे हैं। दिल्ली से लौटने के बाद वो 2 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखेंगे।

तेजस्वी के मुताबिक नीतीश कुमार ने उन्हें भरोसा दिलाया है कि जातीय जनगणना के मसले पर वह भी उनके साथ खड़े हैं।

कानूनी पक्ष और बारीकियों को भी ठीक से समझना चाहते हैं नीतीश
इसके आगे तेजस्वी ने कहा कि ‘मुलाकात के दौरान जब मैंने कर्नाटक सरकार वाली बात की जानकारी सीएम नीतीश को दी तो उन्होंने सारे मामले के दस्तावेज मंगवा कर देखने को कहा है। नीतीश कुमार ने कहा कि वह इस बात को लेकर कानूनी पक्ष और बारीकियों को भी ठीक से समझना चाहते हैं।’ इसके बाद तेजस्वी ने बताया कि एक बार नीतीश कुमार इस बात को समझ लेंगे तो आगे का निर्णय लेंगे।

ये भी पढ़ें : Jharkhand Unlock : राज्य में बढ़ा छूट का दायरा,अब खुलेंगे स्कूल, चलेंगी बसें -UPDATE

Related posts

22 जून से देश में कोरोना की चौथी लहर? आईआईटी कानपुर ने तीसरी लहर की भी की थी भविष्यवाणी

Pramod Kumar

बिहार पंचायत चुनाव: तारापुर में नामांकन के पहले दिन विभिन्न पदों के लिए 60 प्रत्याशियों ने भरा पर्चा

Manoj Singh

नेता प्रतिपक्ष के हनीमून के ‘विपक्ष’ में ईडी, जमा करा लिया है पासपोर्ट तो पत्नी संग कैसे जायें विदेश

Pramod Kumar