समाचार प्लस
Breaking फीचर्ड न्यूज़ स्लाइडर

नीति आयोग की चेतावनी: सितंबर में कोरोना से बिगड़ेंगे हालात, रोजाना आ सकते हैं 4 लाख केस

नीति आयोग की चेतावनी: सितंबर में कोरोना से बिगड़ेंगे हालात

न्यूज डेस्क/ समाचार प्लस – झारखंड-बिहार

नीति आयोग ने सितम्बर में कोरोना से हालात के भयावह होने की आशंका जताई है। नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने पिछले महीने सरकार को कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए कुछ सुझाव दिए थे। इसमें उन्होंने सरकार को सलाह दी थी कि आने वाले महीनों में अस्पताल की व्यवस्था चाक-चौबंद रखनी होगी, ताकि कोरोना को लेकर किसी भी स्थिति से निबटा जा सके। उन्होंने अनुमान जताया था कि प्रति 100 कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में से 23 मामले ऐसे हो सकते हैं जिन्हें खास चिकित्सा की आवश्यकता पड़ जाये।

बता दें, इससे पहले भी नीति आयोग की ओर से सितंबर 2020 में भी दूसरी लहर का अनुमान लगाया गया था, लेकिन इस बार का अनुमान उससे कहीं अधिक है। नीति आयोग की ओर से गंभीर/मध्यम गंभीर लक्षणों वाले लगभग 20 प्रतिशत रोगियों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता बताई गई थी।

दूसरी लहर में कोरोना केसों में हुई थी बेतहाशा वृद्धि

नीति आयोग की सरकार को की गयी सिफारिश कोविड-19 की दूसरी लहर के परिणामों पर आधारित है। इस साल अप्रैल-जून में कोरोना के केसेस और अस्पताल में भर्ती होने के मामलों में बेतहाशा वृद्धि हुई थी। एक अनुमान के अनुसार 1 जून को जब देशभर में सक्रिय केस लोड 18 लाख था तब 21.74 प्रतिशत केस में अधिकतम मामलों वाले 10 राज्यों में अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता पड़ी थी। इनमें से 2.2 प्रतिशत लोग आईसीयू में भर्ती थे।

हालात बदतर होने से पहले तैयारी करना बेहतर – नीति आयोग

नीति आयोग का कहना है कि और भी बदतर हालात के लिए हम लोगों को तैयार रहना चाहिए। आयोग ने सितम्बर महीने में प्रतिदिन 4 से 5 लाख कोरोना केस का अनुमान लगाया है। इसके साथ ही कहा है कि अगले महीने तक दो लाख आईसीयू बेड तैयार किए जाने चाहिए। इनमें वेंटिलेटर के साथ 1.2 लाख आईसीयू बेड, 7 लाख बिना आईसीयू अस्पताल के बेड (इनमें से 5 लाख ऑक्सीजन वाले बेड) और 10 लाख कोविड आइसोलेशन केयर बेड होने चाहिए।

यह भी पढ़ें: ये पाकिस्तान है: कब्र से निकाल कर लाश के साथ दुष्कर्म, पुलिस ने आरोपी को मार गिराया

Related posts

राजस्थान: गहलोत ‘टीम 30’ तैयार, ‘स्पेशल 15’ ने आज ली शपथ, पायलट गुट का रखा गया खयाल

Pramod Kumar

Jharkhand Legislative Assembly foundation day 2021: दूसरी बार बिना नेता प्रतिपक्ष के मना झारखंड विधानसभा स्थापना दिवस

Manoj Singh

जारी हुई UGC NET परीक्षा की तारीख, दिसंबर और जून सत्र की परीक्षा एक साथ

Manoj Singh

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.